कोरोना वायरस से इटली में 651 नई मौतें, दुनिया में कुल 14000 से ज्यादा की गई जान

News Desk

 
इटली 

दुनिया भर में कोरोना वायरस के वजह से हाहाकार मचा हुआ है. दुनिया में कोरोना वायरस ने 14000 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है. वहीं इटली में कोरोना वायरस के कारण होने वाली मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है.
 

कोरोना वायरस की वजह से इटली में मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है. इटली में कोरोना वायरस के कारण रविवार को 651 नई मौतें दर्ज की गई है. इसके साथ ही इटली में मरने वालों की संख्या 5500 के करीब पहुंच चुकी है. अब तक कोरोना वायरस की वजह से इटली में 5476 मौतें हो चुकी है.
 
दुनिया में कोरोना वायरस के कारण सबसे ज्यादा मौतों के मामले में इटली सबसे आगे है. इससे पहले इटली में शनिवार को एक दिन में रिकॉर्ड 793 लोगों की मौतें दर्ज की गई थीं. इटली में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में भी हर दिन इजाफा देखने को मिल रहा है. इटली में कोरोना से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 60 हजार के करीब पहुंच चुका है.
 
3 लाख से ज्यादा संक्रमित
बता दें कि चीन के वुहान से फैले कोरोना वायरस ने दुनिया के कई देशों को अपनी चपेट में ले लिया है. दुनिया भर में कोरोना वायरस के कारण 3 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं. वहीं अब तक 14000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस के कारण मौत के मुंह में समा चुके हैं. वहीं भारत में भी कोरोना वायरस के संक्रमण का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है और रविवार तक इसकी चपेट में आकर कुल सात लोगों की जान जा चुकी है.

Next Post

लॉकडाउन के दौरान न हो किसी तरह का बल प्रयोग: सीएम योगी का निर्देश

लखनऊ  उत्तर प्रदेश के 16 जिलों में लॉकडाउन लगाने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार रात वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिेए प्रदेश के कई जिलाधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक के दौरान मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि जिन जिलों में लॉकडाउन लगाया गया है वहां पर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।