Google WhatsApp बैकअप के लिए अनलिमिटेड स्टोरेज देना कर सकता है बंद

News Desk

सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग एप्लिकेशन Whatsapp को दुनियाभर में करीब दो अरब लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। Whatsapp यूजर्स को गूगल ड्राइव पर चैट का बैकअप लेने और उसे रिस्टोर करने की सुविधा भी देता है। Google ड्राइव पर व्हाट्सऐप चैट बैकअप लेकर फोटो / वीडियो और मेसेज को खोए बिना एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस पर स्विच करना काफी आसान है। बता दें कि व्हाट्सऐप बैकअप को आपके Google ड्राइव स्टोरेज कोटा में नहीं गिना जाता है। लेकिन यह जल्द ही बदल सकता है।

 

 एक रिपोर्ट के मुताबिक, Google WhatsApp बैकअप के लिए अनलिमिटेड स्टोरेज देना बंद कर सकता है। इसके बजाय, व्हाट्सऐप यूजर्स को एक लिमिटेड प्लान पर स्विच करने के लिए कहा जा सकता है जो 2000 एमबी डेटा प्रति यूजर हो सकता है, यानी की आपका इससे ज्यादा व्हाट्सऐप डेटा गूगल पर सेव नहीं होगा। WaBetaInfo एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जो WhatsApp के आने वाले फीचर्स और अपडेट्स को ट्रैक करता है।

 
WaBetaInfo ने एक नया सेक्शन देखा है जिस पर व्हाट्सऐप काम कर रहा है। नया सेक्शन उपयोगकर्ताओं को बैकअप साइज़ का मैनेज करने की अनुमति देगा। इसके अलावा यूजर्स अगले बैकअप में शामिल की जाने वाले स्पेसिफिक मीडिया को उस बैकअप में जाने से रोक सकते हैं। व्हाट्सऐप इस फीचर को क्यों विकसित कर रहा है, इसका सटीक कारण पता नहीं चल पाया है। लेकिन रिपोर्ट में कहा गया है Google ड्राइव पर व्हाट्सऐप बैकअप को स्टोरेज कोटा के रूप में गिना जाएगा।

Next Post

 दिल्ली के लक्ष्मी नगर से एक पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार 

नई दिल्ली   दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने लक्ष्मी नगर के रमेश पार्क से एक पाकिस्तानी आतंकी को गिरफ्तार किया है। वह एक भारतीय नागरिक की फर्जी आईडी के साथ रह रहा था। बताया जा रहा है कि दिवाली और आगामी त्योहारों के आसपास वह देश के कई शहरों मेें […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।