अब तक 50 लाख से ज्यादा डाउनलोड हो चूका है इंडियन ऐप Mitron

News Desk

नई दिल्ली
पॉप्युलर शॉर्ट विडियो मेकिंग प्लैटफॉर्म TikTok की रेटिंग बीते दिनों इंटरनेट यूजर्स ने गिरा दी थीं और इसे बैन करने की मांग भी उठाई गई थी। इस बीच Mitron नाम का एक इंडियन ऐप TikTok को कड़ी टक्कर दे रहा है और इसे अब तक 50 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है। करीब एक महीने पहले रिलीज हुआ यह ऐप ऐसे वक्त में पॉप्युलर हो रहा है, जब इंडियन यूजर्स के बीच टिकटॉक से जुड़े कई विवाद सामने आए हैं। टिकटॉक जैसे ही फीचर्स ऑफर करने वाले इस ऐप को आईआईटी, रुड़की के स्टूडेंट ने तैयार किया है।

आईआईटी रुड़की के स्टूडेंट शिवांक अग्रवाल का तैयार किया यह ऐप एक नजर में टिकटॉक का क्लोन ही लगता है। इस ऐप ने गूगल प्ले स्टोर पर टॉप फ्री चार्ट में टॉप-10 की लिस्ट में जगह बना ली है। सोमवार को यह ऐप टिकटॉक से भी ऊपर दूसरी पोजीशन पर पहुंच गया था। पेटीएम के पूर्व सीनियर वाइस प्रेजिडेंट दीपक की ओर से किए गए ट्वीट में यह ऐप दूसरी पोजीशन पर दिख रहा है। हालांकि, इस ऐप में टिकटॉक से अलग कोई कमाल फीचर्स नहीं दिए गए हैं लेकिन यह अपने नाम और ब्रैंडिंग की वजह से तेजी से पॉप्युलर हो रहा है।

इंडियन यूजर्स का सपॉर्ट
ऐप अभी नया है और इसमें ढेर सारे बग्स हैं, इसके बावजूद इसको पॉजिटिव यूजर्स रिव्यू और रेटिंग्स मिली हैं। करीब 4.7 रेटिंग्स वाले इस ऐप के रिव्यू में ढेरों यूजर्स ने बताया है कि इसमें कई बग्स हैं और लॉग-इन करने में भी दिक्कत आ रही है लेकिन इसके इंडियन प्लैटफॉर्म होने के चलते इसे सपॉर्ट भी किया जा रहा है। ऐप में टिकटॉक जैसे एडिटिंग फीचर्स भी नहीं मिल रहे हैं और ऑडियो ऐड करने का ऑप्शन भी लिमिटेड है। ऐसे में अगर डिवेलपर इस दौरान बग्स को फिक्स करते हुए नए फीचर्स ऐड करता है, तो ऐप तेजी से पॉप्युलर हो सकता है।

प्ले स्टोर से करें डाउनलोड
अगर यह टिकटॉक की जगह ना भी ले पाए तो कुछ सुधार करने के बाद उसका विकल्प जरूर बन सकता है। केवल 8.03 एमबी साइज वाले इस ऐप को 11 अप्रैल, 2020 को रिलीज किया गया है और 24 मई को इसे लेटेस्ट अपडेट मिला है। फिलहाल यह ऐप केवल ऐंड्रॉयड यूजर्स के लिए उपलब्ध है और इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। गैजेट्स नाउ हिंदी ने भी यह ऐप डाउनलोड करके देखा और इसका इंटरफेस बिल्कुल टिकटॉक जैसा ही है। अभी केवल गूगल की मदद से लॉग-इन का ऑप्शन दिया गया है।

Next Post

नगरीय निकाय एक चार्टर्ड एकाउंटेंट से 3 वर्ष के लेखों की ही संपरीक्षा करा सकेंगे

भोपाल  नगरीय निकाय अब एक चार्टर्ड एकाउंटेंट से अधिकतम 3 वर्ष के लेखों की संपरीक्षा करा सकेंगे। चार्टर्ड एकाउंटेट का चयन नगरीय निकायों द्वारा ही निर्धारित मापदंड के अनुसार किया जायेगा। जिन निकायों में डबल एंट्री अकाउंटिंग सिस्टम का कार्य पूरा किया गया है, उनमें संपरीक्षा का कार्य उस फर्म […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।