बिहार में ट्रैफिक रूल तोड़ा तो जुर्माना के साथ मिलेगा डेढ़ घंटे का ‘गुरुमंत्र’ भी 

News Desk

पटना 
बिहार में अब ट्रैफिक नियमों से खिलवाड़ करना जुर्माना तक सीमित नहीं रहेगा। चालकों को जुर्माना तो देना ही पड़ेगा साथ ही ट्रैफिक नियमों का पाठ भी पढ़ाया जाएगा। राजधानी पटना में ऐसी व्यवस्था पहले से की गई पर अब बिहार के सभी जिलों में ऐसा होगा। खासकर वैसे चालक जो नियम तोड़ते पकड़े जाते हैं और यातायात नियमों की जानकारी नहीं है, उन्हें डीटीओ ऑफिस के अधिकारी-कर्मचारी ट्रैफिक का रूल समझाएंगे।

फील्ड के पुलिस अफसरों को मिला टॉस्क
सड़क दुर्घटनों में कमी लाने के लिए हाल में ही राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार, यूनिसेफ और सीआईडी की ओर से पुलिस अधिकारियों को जाकरूक करने के लिए कई दिनों तक वेबिनार का आयोजन किया गया था। रेंज आईजी-डीआईजी के साथ जिलों के एसपी, एसडीपीओ और थाना प्रभारी इसमें जुड़े थे। हादसों में कमी लाने के लिए यातायात नियमों का उल्लंघन करनेवालों के साथ सख्ती से पेश आने की हिदायत दी गई। इसी के तहत जुर्माना राशि वसूलने के बाद चालकों को ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाने की व्यवस्था सभी जिलों में करने को कहा गया है। वैसे चालक जो यातायात नियमों के बारे में सही से नहीं जानते, उन्हें ट्रैफिक रूल्स के बारे में बताया जाएगा। 

Next Post

पाकिस्तान में 'टू फिंगर टेस्ट' की प्रथा आज भी लागू, कब तक रेप पीड़ितों को दी जाएगी ऐसी यातना 

 लाहौर   14 साल की शाजिया ने रेप के बाद पुलिस को इसकी शिकायत देने का दुर्लभ और साहसी कदम उठाया, लेकिन इसके बाद उसे बेहद बुरे अनुभव वाले 'वर्जिनिटी टेस्ट' से गुजरना पड़ा। पाकिस्तान में 'टू फिंगर टेस्ट' की प्रथा आज भी लागू है जो पीड़िता को न्याय की […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।