बिहार चुनाव 2020: आज हो सकता है तारीखों का ऐलान, हर मतदाता के वोट डालने के बाद सेनेटाइज होगी ईवीएम

News Desk

पटना                                                                                                                                                                                          
बिहार विधानसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा आज हो सकती है। चुनाव आयोग ने आज साढ़े 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है और माना जा रहा है कि बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा की जा सकती है। वहीं कोरोना काल में बिहार विधान सभा चुनाव को लेकर हो रही तैयारियों में मतदाताओं की स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर कई इंतजाम किये जा रहे हैं। चुनाव आयोग कई मोर्चों पर सक्रिय है। संक्रमण के खतरों से बचने के लिए  हर मतदाता के वोट डालने के बाद ईवीएम को सेनेटाइज करने का निर्णय लिया गया है। आयोग ने पहली बार सीधे स्वास्थ्य विभाग को कई जिम्मेवारियां सौंपी है। इस आलोक में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने सूबे के सभी सिविल सर्जन को चुनावी तैयारी तेज करने का निर्देश दिया।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से तय किया गया है कि चुनाव के दौरान कोरोना से बचाव के उपायों को संजीदगी से अपनाया जाएगा। बूथ पर वोट डालने आने वाले मतदाताओं को मास्क और ग्लब्स पहनकर आना होगा। जो वोटर मास्क पहनकर नहीं आएंगे उन्हें मतदान से स्वास्थ्य विभाग की टीम रोकेगी। मतदाता को दो गज की दूरी का पालन करना होगा। हर बूथ पर स्वास्थ्य कर्मी तैनात किये जाएंगे।इतना ही नहीं, मुख्यालय की ओर से जिला स्वास्थ्य समिति को निर्देश दिया गया है कि वोटिंग के दिन विशेष सतर्कता बरती जाये। हर एक मतदाता के वोट डालने के बाद ईवीएम को सेनेटाइज किया जाएगा। मतदाता ग्लब्स पहनकर ही ईवीएम का इस्तेमाल कर सकेंगे।

चिकित्सक भी बनाए जा सकते दंडाधिकारी
इस बार जिलों में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ-साथ चिकित्सक भी दंडाधिकारी बनाए जा सकते हैं। अधिकारियों के अनुसार अभी तक स्वास्थ्य विभाग की भूमिका स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने तक ही समिति थीं। कोरोना के मद्देनजर चुनाव में चकित्सकों की भूमिका बढ़ाई गई है।

Next Post

प्रदेश में 5 हजार आदिवासी युवाओं को दिलाया जायेगा कौशल उन्नयन प्रशिक्षण

भोपाल प्रदेश में इस वर्ष आदिम जाति कल्याण विभाग के अन्तर्गत संचालित मध्यप्रदेश रोजगार एवं प्रशिक्षण परिषद (मेपसेट) के माध्यम से 5 हजार आदिवासी वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को कौशल उन्नयन विकास का प्रशिक्षण दिलाया जायेगा। यह प्रशक्षिण केन्द्र सरकार के कौशल उन्नयन विकास मंत्रालय द्वारा निर्धारित मापदंडों के […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।