पंचायत में जूतों की माला पहनाकर दो युवकों को पीटा 

News Desk

ग्रेटर नोएडा।                                                                                                                                                                                                                                           
ग्रेटर नोएडा के दादरी कस्बे की नई आबादी कॉलोनी में पंचायत बुलाकर युवकों को जूतों की माला पहनाने और उन्हें पीटने के आरोप में दादरी थाना पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में एक टीचर भी शामिल है।

आरोप है कि गिरफ्तार आरोपियों ने पंचायत बुलाई और दो युवकों व उनके परिजनों को बुलाया गया। पंचायत में दोनों युवकों को जूतों की माला पहनाने के साथ उनकी पिटाई की गई। इस घटना का वीडियो सोशल वीडियो मीडिया में वायरल होने के बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

ग्रेटर नोएडा के दादरी कस्बे की नई आबादी कॉलोनी में तीन मई को पंचायत बुलाई गई। आरोप है कि दो युवकों ने पड़ोस में रहने वाली एक लड़की के फोटो लिए और फोटोशॉप की मदद से उनमें छेड़छाड़ कर अपने साथियों को भेज दिए थे। इस बीच मामला लड़की के परिवार तक पहुंच गया। इसके बाद यह पंचायत बुलाई गई थी। मामला पुलिस को देने के बजाय पंचायत करने वालों ने खुद ही कानून अपने हाथ में लेते हुए पंचायत में युवकों को जूतों की माला पहनाई गई और पिटाई की गई। इतना ही नहीं, पंचायत का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया गया। जब यह मामला पुलिस के संज्ञान में आया तो सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान रहीश खान पुत्र रमजानी, अनवार अहमद पुत्र रफीक अहमद, करीमुद्दीन पुत्र अब्दुल हमीद निवासी, आस मोहम्मद पुत्र अलीशेर, मास्टर लईक पुत्र सगीर अहमद, रहीशुद्दीन पुत्र मुरादली व जमील चिश्ती पुत्र मुराद अली को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपी दादरी के रहने वाले हैं। एक आरोपी शिक्षक भी बताया जा रहा है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने गुलजार और फिरोज के साथ मारपीट कर गले में जूते की माला डाली थी। यह घटना वॉट्सऐप और ट्विटर पर वायरल हो गई थी।  

Next Post

SC का बड़ा आदेश- 'जब तक जरूरी न हो आरोपियों को गिरफ्तार न करें'

नई दिल्ली कोविड-19 की दूसरी लहर के बीच सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को जेलों पर कैदियों का भार कम करने को लेकर बड़ा आदेश दिया है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि पुलिस को वर्तमान में समय में 7 साल से कम सजा के मामलों में यदि बहुत […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।