जेईई मेन्स : कोरोना के खौफ की बीच लखनऊ में 44 प्रतिशत छात्र रहे अनुपस्थित

News Desk

 लखनऊ 
कोरोना के खौफ की बीच संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन्स की शुरुआत मंगलवार को की गई। पहले दिन बीआर्क में प्रवेश के लिए परीक्षा कराई गई। परीक्षार्थियों की संख्या कम होने के कारण परीक्षा सिर्फ तीन केंद्रों पर हुई। परीक्षा दे रहे परीक्षार्थियों के चेहरे पर कोरोना का खौफ साफ नजर आ रहा था।

ऐसे में सैनिटाइजर और मास्क के साथ वह केंद्रों पर पहुंचे। पहले दिन छात्रों की उपस्थिति भी कम रही। राजधानी लखनऊ में 44% परीक्षार्थी परीक्षा देने नहीं आए। जिला प्रशासन की मानें तो करीब 1065 परीक्षार्थियों को शामिल होना था। उपस्थिति 597 रही है। 

जेईई मेन्स
कुल शामिल अभ्यर्थियों की संख्याः 1065
उपस्थितः597
अनुपस्थितः469
 
प्रथम पाली
कुल परीक्षार्थीः 528
परीक्षा में बैठेः305
छोड़ी परीक्षाः224

द्वितीय पाली
कुल परीक्षार्थीः 537
परीक्षा में बैठेः292
छोड़ी परीक्षाः245
 

Next Post

मांझी ने महागठबंधन से नाता तोडा , NDA के साथ हुए

पटना बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के घटक दल के रूप में चुनाव मैदान में उतरेगी। 'हम' के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने बुधवार को बताया, ‘3 सितंबर को हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।