कब तक आएगी कोरोना वैक्सीन? इलाहाबाद हाई कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

News Desk

प्रयागराज

कोरोना वायरस से जूझ रहे देश को स्वदेशी वैक्सीन को लेकर उम्मीद जगी है। कई फार्मा कंपनियों की वैक्सीन फेज 3 ट्रायल के दौर से गुजर रही है। इन वैक्सीन के इंसानों पर असर और साइड इफेक्ट्स की जांच की जा रही है। उम्मीद तो यह भी जताई जा रही है कि अक्टूबर अंत तक कोरोना वैक्सीन (corona vaccine trial) को लेकर कोई बड़ी खुशखबरी मिल सकती है।अब इलाहाबाद हाई कोर्ट ने केंद्र को निर्देश जारी कर कोरोना वैक्सीन के ट्रायल को लेकर स्टेटस रिपोर्ट मांगी है। साथ ही कोर्ट ने उत्तर प्रदेश में मानक से खराब मास्क मिलने की शिकायतों का भी संज्ञान लिया है। हाई कोर्ट ने मास्क को लेकर आईसीएमआर की गाइडलाइन्स का ब्योरा मांगा है।

 

लखनऊ-गोरखपुर में होगा COVAXIN का फेज-3 ट्रायल

भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन का ट्रायल अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है। COVAXIN के शुरुआती दो चरणों का ट्रायल सफल रहा है और अब तीसरे चरण के ट्रायल के लिए लखनऊ के पीजीआई अस्पताल और गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज को चुना गया है। पिछले हफ्ते ही अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने इसको लेकर आदेश जारी कर दिए हैं।

 

अगले महीने से फेज 3 का ट्रायल, 25-30 हजार लोग होंगे शामिल

भारत बायोटेक अक्टूबर महीने से कोवैक्सिन के फेज 3 ट्रायल की शुरुआत करने जा रहा है। उत्तर प्रदेश के अलावा देश के अन्य राज्यों में भी इस वैक्सीन का ट्रायल किया जाएगा। एक अनुमान के मुताबिक, फेज 3 में 25-30 हजार लोगों पर इस वैक्सीन का ट्रायल किया जाएगा। वैक्सीन के फेज-2 ट्रायल अभी चल रहे हैं। कंपनी की ओर से पहले फेज के ट्रायल के रिजल्ट ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया के साथ शेयर किए जा चुके हैं।

Next Post

रायपुर अनलॉक,नियमों का करना होगा पालन, नहीं तो जुमार्ने के साथ 15 दिन हो सकती हैं दुकानें व व्यवसायिक संस्थान सील..कलेक्टर एसएसपी ने दुकानों में मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के जैसे नियमों का जायजा लिया..

रायपुर रायपुर अनलॉक हो गया और दुकान,व्यवसायिक संस्थान रात्रि 8 बजे के बाद संचालित नहीं करने के निर्देश दिए गए है। पेट्रोल पंप एवं मेडिकल दुकानें उनके निर्धारित समय में ही खुलेंगे। रेस्टोरेंट, होटल संचालन एवं टेकअवे, होम डिलिवरी की अनुमति रात्रि 10 बजे तक ही होंगी। आज सुबह कलेक्टर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।