हार्दिक पांड्या ने विकेट पर दे मारा अपना बल्ला, सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल

News Desk

नई दिल्ली
'हिटमैन' रोहित शर्मा की आतिशी पारी की मदद से मुंबई इंडियन्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के खिलाफ अबुधाबी में खेले जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मैच में पांच विकेट पर 195 रन बनाए। रोहित ने 54 गेंदों पर 80 रन की पारी खेली जिसमें तीन चौके और छह गगनचुंबी छक्के शामिल हैं। उन्होंने सूर्यकुमार यादव (28 गेंदों पर 47, छह चौके, एक छक्का) के साथ दूसरे विकेट के लिए 90 रन जोड़े। केकेआर के सबसे महंगे खिलाड़ी पैट कमिन्स गेंदबाजी में भी महंगे साबित हुए। उन्होंने तीन ओवर में 49 रन लुटाए। युवा शिवम मावी ने प्रभावित किया और 32 रन देकर दो विकेट लिए। सुनील नरेन ने 22 रन देकर एक विकेट लिया।  रोहित शर्मा की शानदार पारी की वजह से एक तरफ जहां उन्हें ट्विटर पर शाबाशी मिल रही थी। वहीं अचानक से हार्दिक पांड्या ट्रोल हो गए और इसकी वजह थी उनका हिट विकेट आउट होना। मैच के 18.3 ओवर में मुंबई इंडियंस को पांचवां झटका लगा, जब आंद्रे रसेल की गेंद पर हार्दिक पांड्या हिट विकेट हुए।

हार्दिक 13 गेंदों में 2 चौके और 1 छक्के के साथ 18 रन की पारी खेलकर आउट हुए। रसेल की यॉर्कर गेंद को खेलने के लिए पांड्या पिच के काफी अंदर खड़े हुए थे। रसेल की तीसरी गेंद पर उनका बल्ला पहले स्टंप पर जा लगा। हालांकि, इस दौरान गेंद और बल्ले का आपस में कोई संपर्क नहीं हुआ। बेल्स नीचे गिर गई और हार्दिक हिट विकेट आउट होकर पवेलियन लौट गए। वे जैसे ही आउट हुए, लोगों ने सोशल मीडिया पर ट्रोल करना शुरू कर दिया। बता दें कि आईपीएल में हिट विकेट आउट होने वाले हार्दिक पांड्या 11वें बल्लेबाज हैं। वहीं, आंद्रे रसेल को पहली बार हिट विकेट के रूप में विकेट मिला। कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से शिवम मावी ने 32 रन पर दो विकेट लिए, जबकि सुनील नरेन ने 22 रन पर एक विकेट और आंद्रे रसेल ने 17 रन पर एक विकेट लिया। वहीं, आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा कीमत (15.50 करोड़ रुपये) पाने वाले विदेशी खिलाड़ी पैट कमिंस सबसे महंगे साबित हुए। उन्होंने 49 रन दिए और कोई विकेट हासिल नहीं किया।

 

Next Post

संसाधनों का समान वितरण कर जरूरतमंदों को सहारा देती है संबल योजना

भोपाल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश सरकार गरीबों के कल्याण को सर्वोपरि मानती है। संसाधनों का समान वितरण कर जरूरतमंद गरीबों को सहारा देने वाली संबल जैसी व्यावहारिक योजना को पूर्व सरकार ने बंद कर दिया था। जन्म के पूर्व से लेकर असामयिक मृत्यु की स्थिति […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।