यूएई में IPLकेंद्र सरकार से मिली लिखित मंजूरी

News Desk

नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (IPL in UAE) में कराने के लिए केंद्र सरकार से औपचारिक मंजूरी मिल गई है। लीग के चेयरमैन बृजेश पटेल ने सोमवार को यह जानकारी दी।

आईपीएल का आयोजन अगले महीने यूएई में होना है। यह प्रतिष्ठित टी20 लीग 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच शारजाह, दुबई और अबुधाबी में खेली जाएगी। सरकार ने पिछले सप्ताह बीसीसीआई को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी थी।

भारत में कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों के कारण यूएई में टूर्नमेंट कराया जा रहा है। पटेल ने कहा, ‘हमें लिखित रूप से मंजूरी मिल गई है।’ उनसे पूछा गया था कि क्या गृह और विदेश मंत्रालय दोनों ने लिखित में मंजूरी दे दी है।

भारत का कोई भी खेल संगठन जब घरेलू टूर्नमेंट विदेश में कराता है तो गृह, विदेश और खेल मंत्रालय से मंजूरी लेनी होती है। बोर्ड के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘सरकार से मंजूरी मिलने के बाद हमने एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड का बता दिया था। अब हमें लिखित मंजूरी भी मिल गई है तो टीमों को सूचित किया जाएगा।’

अधिकांश टीमें 20 अगस्त के बाद रवाना होंगी। उन्हें रवानगी से पहले 24 घंटे के भीतर दो बार आरटी-पीसीआर टेस्ट (कोविड-19 टेस्ट) कराने होंगे। चेन्नै सुपर किंग्स टीम 22 अगस्त को रवाना होगी जिसका चेपॉक स्टेडियम पर एक छोटा कैंप लगाया जाएगा।

चीनी मोबाइल कंपनी वीवो से करार टूटने के बाद बीसीसीआई को प्रायोजन तलाशने में भी दिक्कत हो रही है। यह 440 करोड़ रुपये (सालाना) का करार था जो भारत और चीन के सैनिकों के बीच सीमा पर हुई हिंसक झड़प के कारण चीनी उत्पादों और कंपनियों के बहिष्कार की मांग के बीच इस साल के लिए रद्द कर दिया गया है। योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि ने नया टाइटल स्पॉन्सर बनने में रूचि दिखाई है।

Next Post

कोरोना पॉजिटिव मरीज ने हाथ की नस काट अस्पताल की दूसरी मंजिल से कूदा

ग्वालियर ग्वालियर के जेएएच के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की दूसरी मंजिल से एक कोरोना पॉजिटिव मरीज नीचे कूद गया। घटना में उसके हाथ में चोट आई है। उसे तुरंत उठाकर ऑपरेशन थिएटर में ले जाया गया, जहां उसकी सर्जरी जारी है। बताया जा रहा है कि वो बाथरूम की खिड़की […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।