लॉकडाउन: सीएम केजरीवाल का ऐलान- मजदूरों को 5,000 रुपये देगी दिल्ली सरकार

News Desk

नई दिल्ली 
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अरविंद केजरीवाल सरकार ने लॉकडाउन का ऐलान किया है। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को निर्माण कार्य में लगे मजदूरों को लेकर अहम ऐलान किया। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निर्माण कार्यों में लगे मजदूरों की जीविका प्रभावित हो रही है। ऐसे में दिल्ली सरकार प्रत्येक मजदूर को पांच-पांच हजार रुपये देगी। इधर पीएम मोदी ने देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है, जिस पर अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि इस मुश्किल समय में आपकी हर जरूरत का ख्याल रखा जाएगा। 

केजरीवाल बोले- हर जरूरत का रखा जाएगा ख्याल 
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट में कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से घोषित किया हुआ 21 दिन का देशव्यापी लॉकडाउन कोरोना को फैलने से रोकने के लिए बेहद जरूरी है। मैं दिल्ली के हर व्यक्ति को आश्वस्त करता हूँ कि अगले 3 हफ्ते जरूरी वस्तुओं की सप्लाई में कोई कमी नहीं होने देंगे। इस मुश्किल समय में आपकी हर जरूरत का ख्याल रखा जाएगा। 

46 हजार मजदूरों को होगा फायदा 
मजदूरों को लेकर लिए गए फैसले पर एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली सरकार के इस कदम से निर्माण मजदूर कल्याण बोर्ड फंड में रजिस्टर लगभग 46 हजार मजदूरों को फायदा होगा। केजरीवाल ने मंगलवार शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस की, इसमें उन्होंने कहा कि दिल्ली में पिछले 40 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है और वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 30 से कम होकर 23 हो गयी है। 

केजरीवाल बोले- 5 डॉक्टरों की टीम का गठन 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि यह अच्छी खबर है कि कुछ मरीज स्वस्थ हो गए हैं लेकिन साथ ही उन्होंने सावधान किया कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई अभी लंबी चलनी है। अगर दिल्ली कोरोना वायरस महामारी के तीसरे चरण में पहुंचने की स्थिति में जाती है तो उससे कैसे निपटा जाए, इस पर सलाह देने के लिए उन्होंने पांच डॉक्टरों की एक टीम गठित की है जिसे 24 घंटे में अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है। 

डॉक्टरों, नर्सों, पायलटों से नहीं करें भेदभाव: केजरीवाल 
अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अनुरोध किया कि वे इस मुश्किल घड़ी में एक-दूसरे की मदद करें। उन्होंने कहा कि लोग कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में मोर्चा संभाले हुए पेशेवरों, डॉक्टरों, नर्सों, पायलटों और एयर होस्टेस के साथ भेदभाव ना करें। केजरीवाल ने कहा कि उन्हें दिल्ली में कई स्थानों पर शिकायत मिली है कि इन महान लोगों को भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है, जो अस्वीकार्य है। 

पीएम मोदी ने किया 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान 
केजरीवाल ने कहा कि उन्हें दिल्ली में कई स्थानों पर शिकायत मिली है कि इन महान लोगों को भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है, जो अस्वीकार्य है। केजरीवाल ने पांच सदस्यीय टीम के बारे में कहा कि इस टीम को 24 घंटे के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है। इससे पहले दिन में, केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की और कोरोनोवायरस के प्रसार को रोकने के उपायों पर चर्चा की। 

Next Post

कोरोना के इलाज को लेकर उड़ी अफवाह, बाजार से गायब हो गई यह दवा

  लखनऊ  देश में 21 दिन के लिए लॉकडाउन लगा दिया गया है क्योंकि सरकार की कोशिश खतरनाक कोरोना वायरस से लोगों को बचाने की है. लेकिन सरकार के लिए कोरोना वायरस से लोगों को बचाना ही अकेली चुनौती नहीं है तमाम अफवाहें ऐसी भी हैं जिससे लोगों को बचाना […]