SC का केंद्र को नोटिस दिव्यांगों को घर जाकर कोरोना वैक्सीन लगाए

News Desk

नई दिल्ली

कोरोना महामारी के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान भारत में चल रहा है। इस बीच, सोमवार को सुप्रीम कोर्च में एक जनहित याचिका पर सुनवाई हुई, जिसमें मांग की गई थी कि दिव्यांगों को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाए और उन्हें उनके निवास स्थान पर जाकर टीके लगाए जाएं। इस पर सुनवाई करते हुए सर्वोच्च अदालत ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से दो सप्ताह के भीतर जवाब मांगा और सॉलिसिटर जनरल से यह अनुरोध भी किया कि वह सरकार द्वारा इस दिशा में पहले ही उठाए जा चुके कदमों के संबंध में अदालत को जानकारी दें।

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में बीते 24 घंटों में कोरोना के 30,256 नए केस सामने आए हैं। इस दौरान 43,938 मरीज ठीक हुए हैं और 295 की मौत हुई है। इस तरह देश में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 33,478,419 पहुंच गई है। अभी देश में 3,18,181 एक्टिव केस हैं। कुल 3,27,15,105 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। देश में कोरोना महामारी अब तक 4,45,133 मरीजों की जान ले चुकी है। वहीं टीकारण जारी है। अब तक देश में कुल 80,85,68,144 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। पिछले 24 घंटों में 37,78,296 लोगों को टीका लगा है।

Next Post

गरीबों के बिजली बिल होंगे माफ, किसानों को वापस मिलेंगे कनेक्शन: पंजाब CM चन्नी

चंडीगढ़ पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सोमवार को शपथ लेने के बाद अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की. चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि कांग्रेस हाईकमान ने एक आम आदमी को पंजाब की कमान सौंपी है. पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सोमवार को शपथ लेने […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।