सऊदी अरामको ने चीन के साथ 10 अरब डॉलर की डील खत्म की, भारत चौकन्ना

News Desk

नई दिल्ली
सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी सऊदी अरामको ने चीन के साथ 10 अरब डॉलर (करीब 75 हजार करोड़) की एक डील खत्म करने का फैसला किया है। इस डील के तहत अरामको चीन के साथ मिलकर एक रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल्स कॉम्प्लेक्स बनाने वाली थी। चीन के लिए यह बहुत बड़ा झटका माना जा रहा है।

कोरोना काल में तेल काफी सस्ता हो गया है। तेल कंपनियों को भारी नुकसान हो रहा है। ऐसे में वर्तमान हालात को ध्यान में रखते हुए अरामको ने इस डील को खत्म करने का फैसला किया है। अरामको के इस फैसले के बाद अब सरकार की नजर 44 अरब डॉलर की भारत के साथ डील पर है।

अरामको ने महाराष्ट्र के रत्नागिरी मेगा रिफाइनरी प्रॉजेक्ट में 44 अरब डॉलर निवेश की घोषणा की थी। तेल की लगातार घट रही कीमत और डिमांड के बीच इस बात की संभावना दिखाई दे रही है कि अरामको भारत के साथ इस डील पर भी पीछे ना हट जाए।

Next Post

बढ़ते साइबर अपराध पर नकेल कसने बिलासपुर पुलिस की अभिनव पहल

बिलासपुर प्रतिदिन साइबर क्राइम की बढ़ती घटनाओं पर नकेल कसने के लिये पुलिस ने गणेश चतुर्थी के अवसर से सईबर मितान योजना की शुरूआत की है। साइबर अपराधों से वाकिफ कराते हुए उन्हें जागरूक करने के उद्धेश्य से इस विशेष अभियान की शुरूआत की। यह अभियान के तहत 7 दिसंबर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।