मुख्यमंत्री ने बारिश प्रभावितों को 10 हजार की मदद का ऐलान

News Desk

हैदराबाद
तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद समेत पूरे राज्य में जोरदार बारिश हो रही है। ऐसे में तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा, 'हैदराबाद ने पिछले 100 सालों में ऐसी भारी बारिश नहीं देखी है। हमने निचले इलाकों में सभी प्रभावित गरीब परिवार को 10,000 रुपये की मदद देने का फैसला किया है। इसके अलावा तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि बारिश में पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हुए सभी घरों को एक-एक लाख रुपये की सहायता दी जाएगी। वहीं आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए लोगों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे।

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में पूरी रात हुई बारिश के कारण रविवार को शहर के कई हिस्सों में बाढ़ की स्थिति बन गई। भारी बारिश के चलते हुई दीवार गिरने की घटना में एक बच्ची की मौत हो गई। पुलिस और निगम के अधिकारियों ने कहा कि पिछली एक शताब्दी में भारी बारिश के चलते आई अब तक की सबसे गंभीर बाढ़ के कुछ ही दिनों बाद एक बार फिर बाढ़ की स्थिति ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है।

रिहायशी कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट में भरा पानी
इससे पहले पिछले सप्ताह प्रभावित रहे हैदराबाद और बाहरी हिस्से भी बाढ़ की चपेट में आ गए। फंसे हुए लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए आपदा मोचन बल के कर्मी, ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम के कर्मचारी और पुलिस के जवान शनिवार रात से ही जुट गए थे। पिछले सप्ताह जिस तरह के हालात दिखाई दिए थे, उसी तरह रविवार को बारिश के बाद आयी बाढ़ का पानी कई रिहायशी कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट में भर गया और कुछ इलाकों में लोग घुटने तक भरे पानी में चलते नजर आए।

21 अक्टूबर तक बारिश होने की संभावना
तेलंगाना में बारिश का लगातार जारी है। इस बीच मौसम विभाग ने राज्य के कई हिस्सों में 21 अक्टूबर तक बारिश होने की संभावना जताई है।

Next Post

बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा का दावा- जल्द लागू होगा CAA

 सिलीगुड़ी भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा (J P Nadda) ने कहा है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) जल्द ही लागू होगा। पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण की वजह से सीएए की प्रक्रिया में देरी हुई लेकिन […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।