देश में 126 तक पहुंची कोरोना मरीजों की संख्या, महाराष्ट्र में 3 साल की बच्ची भी पीड़ित

News Desk

नई दिल्ली
दुनिया में 6000 से ज्यादा लोगों को बेमौत मारने वाले कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा. हर रोज देश में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. 24 घंटे में 12 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हो गई है. अब तक देशभर में 126 मामले सामने आए हैं, जिसमें महाराष्ट्र से एक तीन साल की बच्ची भी शामिल है. कोरोना से महाराष्ट्र सबसे ज्यादा प्रभावित है. मुंबई, नवी मुंबई और यवतमाल में कोरोना वायरस के 5 नए मामले सामने आने के साथ ही महाराष्ट्र में कोरोना के पॉजिटिव केस 39 तक पहुंच गया है. मुंबई पुलिस धारा 144 लागू कर चुकी है, जबकि ग्रुप टूर पर रोक लगा दी गई है. पुणे में अब तक सबसे ज्यादा 16 मामले सामने आ चुके हैं.
नई डिस्चार्ज पॉलिसी जारी
भारत सरकार ने कोरोना के मरीजों के अस्पताल से डिस्चार्ज करने के लिए नई पॉलिसी जारी की है. इसके तहत 24 घंटे में दो बार सैंपल टेस्ट किए जाते हैं और दोनों नेगेटिव आने पर डिस्चार्ज किया जाता है, .क्योंकि सवाल ये उठ रहा था कि आखिर कैसे पता चलता है कि कोई शख्स पूरी तरह ठीक है और उसे अस्पताल से घर भेजा जा सकता है. क्योंकि अगर मरीज पूरी तरह ठीक नहीं हुआ तो वायरस के फैलने की संभावना है.
बिहार में विधानसभा स्थगित, असम में टाइगर रिजर्व बंद
बिहार में कोरोना वायरस के चलते विधानसभा सत्र अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है. ओडिशा में सभी टूरिस्टों से पुरी छोड़ने की अपील की गई है. छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र को 25 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया है. कोरोना वायरस के मद्देनजर असम में सभी टाइगर रिजर्व, सैंक्चुअरी, नेशनल पार्कों को 17 से 29 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया है.  IIT रूड़की ने कोरोना वायरस के संदिग्ध आठ भारतीय और एक विदेशी स्टूडेंट को 14 दिनों के लिए आइसोलेशन में रखा है.
 

Next Post

कोरोना संकट: भारत से भी आगे निकला पाकिस्‍तान, चीन की शरण में पहुंचे पाकिस्‍तानी राष्‍ट्रपति

  इस्‍लामाबाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर कोरोना वायरस को लेकर आयोजित सार्क देशों की अहम बैठक में कश्‍मीर राग अलापने वाले पाकिस्‍तान में हालात खराब होते जा रहे हैं। पाकिस्‍तान में सोमवार को कोरोना वायरस से पॉजिटिव लोगों की संख्‍या बढ़कर 184 हो गई। भारत समेत दक्षिण एशिया […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।