जब खुद सड़क पर उतरीं ममता, लोगों को सिखाया सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ

News Desk

 
कोलकाता 

कोरोना से लड़ाई के लिए सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की है कि वह घर से बाहर ना निकलें. अगर घर से बाहर निकल रहे हैं तो सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रखें. पीएम मोदी की अपील को लोग मान भी रहे हैं. राज्य सरकारें भी सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए तमाम उपाय कर रही है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी गुरुवार को कोलकाता की सड़कों पर निकलीं और लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ाया. एक फल मार्केट में वह उतर गईं और चाक लेकर गोल घेरा बनाने लगीं. उन्होंने लोगों से कहा कि आप लोग सोशल डिस्टेंसिंग बनाने के लिए इन घेरों में खड़े होंगे और अपनी बारी आने पर सामान लेंगे.
 
तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ'ब्रायन ने ममता बनर्जी का वीडियो शेयर किया. इसमें वह सफेद साड़ी में चेहरे पर रुमाल बांधकर एक फल मार्केट में उतरती हैं. पहले लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग बनाने की अपील करती हैं. इसके बाद एक ईंट उठाकर मार्किंग करने लगती हैं. इसके बाद ममता ने लोगों को जागरुक रहने और घर से ना निकलने की सलाह दी है.
 
सीएम ममता बनर्जी ने भरोसा दिलाया कि लॉकडाउन के दौरान लोगों को कोई समस्या नहीं होगी. उन्होंने कहा कि हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि खाने की कोई कमी न हो. सभी पुलिस स्टेशन लोगों के दरवाजे पर खाना पहुंचाने की जिम्मेदारी लेंगे और इसकी निगरानी जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस अधीक्षक करेंगे.

पश्चिम बंगाल में कोरोना के अब तक 10 केस आ चुके हैं. इसमें एक शख्स की मौत हो चुकी है. वहीं, देशभर में मरीजों की संख्या अब 694 हो गई है. अब तक 16 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. कोरोना से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित है, जहां 125 लोग संक्रमित हो चुके हैं और चार लोगों की मौत हो चुकी है.

Next Post

नवरात्र के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की उपासना, जानें पूजा की पूरी विधि

  नई दिल्ली  Navratra 2020: नवरात्र का तीसरा दिन भय से मुक्ति और अपार साहस प्राप्त करने का होता है. इस दिन मां के 'चंद्रघंटा' स्वरूप की उपासना की जाती है. इनके सर पर घंटे के आकार का चन्द्रमा है. इसलिए इनको चंद्रघंटा (Chandraghanta) कहा जाता है. इनके दसों हाथों […]