ओट्स उबटन से दमक उठेगा होने वाली दुल्हन का चेहरा

News Desk

उबटन का प्रयोग सदियों से किया आता जा रहा है। शादी-ब्‍याह में इसका इस्‍तेमाल और ज्‍यादा बढ़ जाता है। अगर आप भी जल्‍द दुल्‍हन बनने वाली हैं और अपनी खूबसूरती को और निखारना चाहती हैं तो ओट्स से बना उबटन आपके काफी काम आ सकता है। इस उबटन को लगाने से चेहरे पर नेचुरल ग्‍लो आता है और स्‍किन से झाइयां, सन टैनिंग, दाग धब्‍बे और अनचाहे बाल साफ हो जाते हैं। ओट्स में मसूर की दाल और चावल मिला लेने से इसका असर और ज्‍यादा बढ़ जाता है। शादी से एक महीने पहले इस उबटन को लगाने से उस दिन चेहरा निखरा हुआ दिखाई देता है। अब आइये जानते हैं यह ओट्स उबटन बनाने का तरीका…

ओट्स उबटन बनाने के लिये सामग्री-
    ओटमील- 2 टीस्‍पून
    मसूर दाल – 1 चम्मच
    चावल पाउडर – 2 चम्मच
    गुलाब जल
    हल्दी – 1 चम्मच

​उबटन लगाने का फायदा-
उबटन एक नेचुरल फेस मास्‍क है जो घर में मौजूद चीजों से ही तैयार किया जाता है। इसे नियमित लगाने से त्‍वचा से डेड स्‍किन हट‍ती है और चेहरे पर ग्‍लो आता है। उबटन के प्रयोग से त्वचा का रक्तसंचार भी सुचारू रूप बना रहता है।

​उबटन बनाने की विधि-
    सबसे पहले चावल और मसूर की दाल को लगभग 30 मिनट पानी में भिगो दें। इसके बाद इसे पीस लें।
    ओट मील को भी पीस कर पावडर बना लें।
    फिर इन तीनों को एक साथ मिक्‍स करें और पेस्‍ट बनाएं। इस पेस्‍ट में हल्‍दी और कुछ बूंद गुलाब जल मिलाएं।
    अगर आपकी स्‍किन ड्राई है तो आप इसमें थोड़ी सी मलाई भी मिला सकती हैं। ऐसा करने से चेहरे पर नमी आ जाएगी।
    जब यह पेस्‍ट तैयार हो जाए तब इसे अपने चेहरे या पूरे शरीर पर लगाएं।

​इस उबटन को लगाने का तरीका
इस उबटन को चेहरे या शरीर पर लगा कर 5-7 मिनट छोड़ दें और फिर धीरे धीरे हाथों से सर्कुलर मोशन में रगड़ें। इसके बाद सादे पानी से उबटन को धो लें। धोने के बाद त्‍वचा पर मॉइस्‍चराइजर लगाएं। इस उबटन को नियमित रूप से लगाने पर कुछ ही दिनों में आपका चेहरा चमक उठेगा।

Next Post

कोरोना: श्रद्धालुओं के लिए सिद्धिविनायक बंद

मुंबई कोरोना का कहर अब भगवान के भक्तों भी डराने लगा है। मुंबई के मशहूर सिद्धिविनायक मंदिर को भी अगले नोटिस तक के लिए बंद कर दिया है। जानकारी के मुताबिक, सोमवार शाम 7 बजे से ही सिद्धिविनायक मंदिर को बंद किया जा रहा है। मंदिर कब खुलेगा इसके बारे […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।