Deepika की बिना मेकअप वाली तस्वीर हुई वायरल…. नो मेकअप लुक वाली फोटो में एक्ट्रेस ने लिखा, ‘पोस्ट बैडमिंटन ग्लो’…

vandana patel


मुंबई

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस दीपिका पादुकोण सोशल मीडिया पर खासा एक्टिव नहीं रहती हैं, लेकिन हौके-मौके अपनी हसीन तस्वीरें फैंस के साथ साझा करने से कोई गुरेज भी नहीं करती हैं. अब दीपिका पादुकोण ने अपने संडे ग्लो से फैंस का ध्यान खींचा है. ऐक्ट्रेस की पोस्ट पर बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने भी कॉमेंट किया है. एक्ट्रेस की ये तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

दिपिका का ग्लो
दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से नेचुरल ब्लश और रेडिएंट स्किन वाली तस्वीर शेयर की है. नो मेकअप लुक वाली इस फोटो के कैप्शन में एक्ट्रेस ने लिखा, ‘पोस्ट बैडमिंटन ग्लो.’ दीपिका पादुकोण की इस तस्वीर पर उनके फैंस खूब कॉमेंट कर रहे हैं. कुछ फैंस को उनका बिना मेकअप वाला लुक पसंद आ रहा है तो कुछ लोग एक्ट्रेस को ट्रोल करने में लग गए हैं.

पीवी सिंधु ने किया मजाक
दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) की पोस्ट पर पीवी सिंधु (PV Sindhu) मजाक करते हुए कॉमेंट कर लिखा, ‘कितनी कैलोरी के बाद?’ पीवी सिंधु को रिप्लाई करते हुए दीपिका पादुकोण ने घायल होने वाले इमोजी बनाते हुए लिखा, ‘कैलोरी को भूल जाओ. मेरी बॉडी में बहुत दर्द है

एक यूजर ने लिखा, ‘बूढ़ी लगी रही हो’

वहीं दीपिका पादुकोण की तस्वीर पर फैंस के रिएक्शन की बात करें तो एक यूजर ने लिखा, ‘बूढ़ी लगी रही हो.’ एक यूजर ने लिखा कि ये फिलटर का कमाल है. वहीं एक यूजर ने तो ये तक कह दिया कि बोटॉक्स का असर है. ऐसे ही कई ऐसे लोग भी है जो एक्ट्रेस की खूबसूरती की तारीफ कर रहे हैं. दीपिका पादुकोण का ये अंदाज पहले भी कई बार देखने को मिला है. उन्होंने पहले भी बिना मेकअप वाली अपनी तस्वीरें साझा की हैं.

Next Post

राजधानी के नूतन कॉलेज में खुली लीगल एड क्लीनिक,छात्राएं ले रही कानूनी सलाह

भोपाल नूतन कॉलेज…प्रदेश का पहला कॉलेज है जहां लीगल एड क्लीनिक खुली है। इस क्लिनिक में ढाई माह में 25 से ज्यादा छात्राएं कानूनी सलाह ले चुकी हैं। इस क्लिनिक में जिला विधिक प्राधिकरण के माध्यम से दो एडवोकेट को नियुक्त किया गया है, जो विभिन्न यहां पर काउंसलिंग से […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।