पति के सामने पत्नी से गैंगरेप, वीडियो भी बनाया,5 युवकों ने दिया शर्मनाक घटना को अंजाम,चार पुलिस कर्मी समेत TI सस्पेंड ,S P की छुट्टी

Dilshad Ali

अलवर। राजस्थान के अलवर में गैंगरेप की घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है। थानागाजी इलाके में पति के सामने पत्नी से 3 घंटे तक गैंगरेप किया गया। पूरी घटना की विडियो रिकॉर्डिंग भी कई गई। जिनमें से एक वीडियो क्लिप को वायरल भी कर दिया गया। राज्य सरकार ने इस मामले में कड़ा रूख दिखाते हुए अलवर के एसपी की छुट्टी कर दी है। मंगलवार की शाम अलवर एसपी राजीव पचार को हटा दिया। वहीं थानागाजी थानाप्रभारी को सस्पेंड कर दिया है, जबकि चार अन्य पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है।
पांचों आरोपियों ने तीन घंटे तक कई बार महिला से रेप किया। घटना के बाद पीड़िता को एक आरोपी ने फोन किया और रिकॉर्ड किए गए 11 विडियो लीक ना करने के एवज में पैसों की भी मांग की। इस दौरान आरोपियों को जितना रोका, रेपिस्टों ने उतनी ही दरिंदगी की। मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य दो आरोपियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस की कई टीमें छापेमारी कर रही हैं। थानागाजी थाने के एसओ को सस्पेंड कर दिया गया है और अलवर के एसपी का ट्रांसफर कर दिया गया रेत के टीलों के पीछे कपल के कपड़े उतरवाए गए और उसकी विडियो रिकॉर्डिंग की गई। महिला के देवर ने बताया, ‘पांचों लोगों ने मेरे भाई को डंडों से पीटना शुरू कर दिया। भाभी ने भाई को बचाने का प्रयास किया तो उन्होंने दोनों को और ज्यादा पीटा। अपने पति को बचाने के लिए आखिरकार उन्होंने सरेंडर कर दिया। जिसके बाद उन पांचों ने बारी-बारी से उनके साथ दरिंदगी की। यह सब तीन घंटे तक चला। जाते समय उन्होंने दोनों के पास रखे 2000 रुपये भी लूट लिए।’

Next Post

मौसम विभाग की चेतावनी,,बिलासपुर, दुर्ग और रायपुर संभाग में चलेगी लू,, हवा की रफ्तार 30 से 40 किलोमीटर ,,एलो अलर्ट जारी

रायपुर। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है बिलासपुर, दुर्ग और रायपुर संभाग में चलेगी लू और एलो अलर्ट जारी किया गया है ।हवा की रफ्तार होगी 30-40 किलोमीटर प्रति घंटा प्रदेश भर में गर्मी से लोगों का हाल-बेहाल है। झूलसा देने वाली धूप से लोग परेशान हो गए हैं। प्रदेश […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।