एक हजार रुपये के विवाद में गोलबाजार फल मार्केट गली में हुये हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, तीन आदतन अपराधी गिरफ्तार

Dilshad Ali

रायपुर। एक हजार रुपये के मामले में विवाद कर मारपीट कर हत्या करने वाले तीन आदतन अपराधीयो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार थाना गोलबाजार पुलिस को दिनांक 15 सितम्बर को सूचना प्राप्त हुई कि कुछ लड़के गणेश राम नगर फल मार्केट गली गोलबाजार पास जयचंद मण्डावी पिता रामलाल मण्डावी उम्र 57 वर्ष साकिन पंजाबी कालोनी कटोरा तालाब थाना सिविल लाईन रायपुर के साथ मारपीट कर गंभीर चोट पहुंचाकर उसकी हत्या कर दिये कि सूचना पर थाना गोलबाजार पुलिस द्वारा घटना स्थल गणेशराम नगर फल मार्केट पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया गया। मृतक के लडके दिलीप मण्डावी के बताये अनुसार तथा घटना स्थल पर लगे सी.सी.टी व्ही. कैमरे को चेक करने पर पाया गया कि घटना दिनांक 15.09.19 को रात्रि 00.30 बजे मृतक जयचंद मण्डावी घटना स्थल के राजेश भवन के दुकान न0 06 के सामने बैठा था तभी अंकित अपने अन्य साथियों के साथ मोटर सायकल से आकर मृतक के साथ बहसबाजी कर मोटर सायकल खडा किये तथा आरोपी अंकित अपने साथियों के साथ मिलकर गाली गलौच कर मृतक को धक्का देकर गिरा दिये व गर्दन पकडकर सिर को क्रांकीट रोड पर पटके जिससे मृतक के सिर में गंभीर चोट लगने से खून निकलने लगा जिसे ईलाज हेतु मेकाहारा अस्पताल रायपुर पहुंचाया गया जहां डाॅ0 द्वारा जयचंद मण्डावी को मृत घोषित किया गया। जिस पर आरोपियों के विरूद्ध थाना गोलबाजार में अपराध क्रमांक 244/19 धारा 302, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध है।


हत्या जैसे गंभीर मामले को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख द्वारा गंभीरता से लिया जाकर थाना गोलबाजार पुलिस की एक विषेष टीम का गठन कर आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु आवष्यक दिषा निर्देष दिये गये। जिस पर थाना गोलबाजार की विषेष टीम द्वारा पुनः घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया जाकर हत्या के सभी प्रमुख बिन्दुओं को ध्यान में रखते हुये आरोपियों की पतासाजी प्रारंभ किया गया। घटना के संबंध में मृतक के परिजनों एवं आसपास के लोगों से भी विस्तृत पूछताछ करने के साथ ही आरोपियों के संबंध में तकनीकी विष्लेषण किया जाकर आरोपियों के संबंध में जानकारियां एकत्र की जा रही थी, इसी दौरान टीम को आरोपियों के संबंध में महत्वपूर्ण सूचना प्राप्त हुई जिस पर टीम द्वारा आरोपी अंकित ठाकुर, विक्रम षर्मा एवं घनष्याम महानंद को गिरफ्तार करने में सफलता मिली। पूछताछ में आरोपियों द्वारा उक्त हत्या की घटना को कारित करना स्वीकार करने के साथ ही बताया गया कि वे लोग गणेष विर्सजन की झांकी देखने आये थे तथा षराब पीने के लिये मृतक जयचंद मण्डावी से लगभग 1000 रूपये मांग रहे थे जिसका मृतक द्वारा विरोध करने पर सभी मिलकर मृतक के साथ मारपीट किये एवं रोड में पटक दिये जिससे उसके सिर में चोट लगने से खून निकलने लगा इसी दौरान तीनों आरोपी वहां से भाग गये और जाकर षराब पीये एवं खाना खाएं। तीनो आरोपी अपराधिक किस्म के है तथा पूर्व में भी आरोपियान नकबजनी, मारपीट एवं प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत् जेल निरूद्ध रह चुके है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही किया गया। गिरफ्तार आरोपीअंकित ठाकुर पिता पप्पू ठाकुर उम्र 28 साल निवासी झण्डा चैक षंकर नगर सिविल लाईन रायपुर। विक्रम शर्मा पिता सुखदेव षर्मा उम्र 38 साल निवासी संजय नगर झण्डा चैक टिकरापारा रायपुर।घनष्याम महानंद पिता बिनी राम महानंद उम्र 30 साल निवासी सुदामा नगर टिकरापारा रायपुर।
आरोपियों को गिफ्तार करने में निरीक्षक आर.एन. पांडेय, उप निरीक्षक ईश्वर साकार, प्रधान आरक्षक जमील खान, आरक्षक मोह. सुल्तान, मोह. सहजादा, दिनेश वर्मा, सुरेंद्र चंद्रा एवं जसवंत शर्मा का विशेष योगदान रहा।

Next Post

बड़ी खबर :पूर्व सी एम अजीत जोगी व पूर्व विधायक अमित जोगी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

रायपुर । बड़ी खबर जनता कांग्रेस सुप्रीमो अजीत जोगी और उनके बेटे अमित जोगी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज हो गई। अजीत जोगी और अमीत जोगी को अंतागढ़ टेप कांड षड्यंत्र में कोर्ट ने महत्वपूर्ण कड़ी मानते हुए और भारतीय लोकतंत्र की आधारशिला पर कुठाराघात जैसा प्रतीत मानते हुए, पूरा […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।