छत्तीसगढ़ के इस जिले में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, नार्मल वायरस से 15 गुना ज्यादा खतरा, इतने दिनों में हो जाती है मौत…..

vandana patel

जगदलपुर

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में डेंगगुड़ापारा के रहने वाले 35 साल के युवक की आइसोलेशन सेंटर में कोरोना के नए स्ट्रेन से मौत के बाद हड़कंप मच गया है। हैदराबाद से लौटे इस युवक को क्वारंटाइन किया गया था। लोहंडीगुड़ा बीएमओ ने टेलीफोन पर स्वास्थ्य महकमे के वरिष्ठ अफसरों को इस बारे में जानकारी दी।

जानकारी के मुताबिक, हैदराबाद से लौटे युवक को क्वारंटीन किया गया था। युवक की 4 मई की तड़के मौत हो गई। युवक की मौत के बाद जब उसकी जांच की गई, तो वह कोरोना पॉजिटिव मिला। हेल्थ अफसरों की चिंता का सबब यह नहीं था कि मृतक कोविड पॉजिटिव है बल्कि उसमें पाए गए आंध्र म्यूटेंट ने सभी को झकझोर दिया।

कोरोना वायरस की दूसरी के कहर के चलते लोग पहले से ही चिंतित हैं। अब कोविड की दूसरी लहर के बीच आंध्र म्यूटेंट का नया स्ट्रेन मिलने से दहशत फैल गई है। इस वायरस को लेकर दावा किया जा रहा है कि मौजूदा स्ट्रेन के मुकाबले नया वेरिएंट 15 गुना ज्यादा खतरनाक है। इस नए स्ट्रेन में कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत तीन-चार में हो जाती है। बता दें कि आंध्र स्ट्रेन आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना में काफी तेजी से फैल रहा है। इसका असर अब बस्तर तक पहुंच चुका है। इस बात को लेकर पूरा बस्तर जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग चिंतित है।

विशेषज्ञों का दावा है कि कोरोना के नए वेरिएंट से संक्रमित होने वाले मरीज 3 से 4 दिनों में ही हाइपोक्सिया या डिस्पनिया के शिकार हो जाते हैं। इस स्थिति में सांसें मरीज के फेफड़ों तक पहुंचनी बंद हो जाती हैं। सही समय पर इलाज और आॅक्सीजन सपोर्ट नहीं मिलने पर मरीज की मौत हो जाती है। बता दें कि बस्तर में तेलंगाना और ओडिशा से प्रवेश के लिए जो रास्ते हैं, वहां चेक पोस्ट लगाकर हर आने-जाने वालों की जांच के दावे किए जा रहे थे। संभाग के कमिश्नर, रेंज आईजी, सभी कलेक्टर और एसपी को हाई अलर्ट पर रहने कहा गया है। सभी बॉर्डर सील करने के साथ ही चौकसी बढ़ाए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

 

 

 

 

 

Next Post

व्यक्तिगत कर्जदाता-एमएसएमई को ऋण पुनर्गठन सुविधा का लाभ

मुंबई  भारतीय रिजर्व बैंक ने कोविड-19 महामारी से त्रस्त व्यक्तियों तथा सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमों (एमएसएमई) से वसूल नहीं हो पा रहे कर्जों के पुनर्गठन की छूट देने सहित अर्थव्यवस्था को इस संकट में संभालने के लिए बुधवार को कई नए कदमों की घोषणा की। ​रिजर्व बैंक के गवर्नर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।