ब्रेकिंग:छत्तीसगढ़ स्टेट वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन मे 3 अधिकारियों पर गिरी गाज..सीए सहित तीन पर ईओडब्ल्यू में दर्ज शिकायत.. नियम विरुद्ध भर्ती का था मामला..

Dilshad Ali

रायपुर

छत्तीसगढ़ स्टेट वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन में नियम विरुद्ध भर्ती किए जाने के मामले में की गई शिकायत पर छत्तीसगढ़ स्टेट वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के प्रबंध संचालक ने तत्कालीन प्रबंधक लेखा सीएम रितेश अग्रवाल, मो आगा हुसैन तत्कालीन उप प्रबंधक तकनीकी और तत्कालीन प्रबंधक उप तकनीकी श्रद्धा अग्रवाल को तत्काल प्रभाव से उनके प्रभार से हटा दिया है। उनके स्थान पर अन्य को प्रभार सौंपा गया है। जबकि शिकायत में शामिल एक अन्य तत्कालीन अधिकारी को क्लीन चिट दे दी गई है।

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ स्टेट वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन में नियम विरुध भर्ती और संबंधितों को लाभ पहुंचाने की शिकायत राज्य आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरों में की गई थी। ईओडब्ल्यू ने इस मामले में जांच को सही पाकर मामला को जांच में लिया है।सामान्य प्रशासन ​विभाग के नियमानुसार जिन अधिकारियों पर अपने पद के दायित्व के निर्वहन के दौरान आर्थिक मामलों में शिकायतों की जांच चल रही है, उन्हें उसी विभाग के महत्वपूर्ण पदों से हटाए जाने का स्पष्ट प्रावधान है।

ईओडब्ल्यू द्वारा मामले को जांच में लिए जाने पर छत्तीसगढ़ स्टेट वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के प्रबंध संचालक ने तत्कालीन तत्कालीन प्रबंधक लेखा रितेश अग्रवाल, मो आगा हुसैन तत्कालीन उप प्रबंधक तकनीकी और तत्कालीन प्रबंधक उप तकनीकी श्रद्धा अग्रवाल को तत्काल प्रभाव से उनके प्रभार से हटा दिया है।हटा दिया है।

 

 

 

Next Post

जुलाई में भारत को मिलेंगी 4 राफेल विमानें, अंबाला एयरबेस पर होंगी तैनात

नई दिल्ली पाकिस्तान और चीन से सरहद पर तनाव के बीच भारत के लिए अच्छी खबर है. जुलाई के आखिरी हफ्ते में भारत को चार राफेल विमानें मिलेंगी. इन विमानों को भारतीय वायुसेना के अंबाला एयरबेस पर तैनात किया जाएगा. सरकार के सूत्रों ने इंडिया टुडे को बताया कि कोरोना […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।