जब संकरी गली में नहीं जा पाई कार तो मंत्री डॉ. डहरिया स्कूटी चलाते पंहुचें लोगों के द्वार..नगरीय प्रशासन मंत्री ने किया विकास कार्यों का निरीक्षण..

Dilshad Ali

 

रायपुर

वैसे तो अपने विधानसभा क्षेत्र आरंग में नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा श्रम मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया आए दिन विकास कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और लोगों के सुख-दुख वाले कार्यक्रमों में शिरकत करते रहते हैं। ऐसा कोई सप्ताह नहीं रहता, जिसमें उनका क्षेत्र में भ्रमण और कार्यक्रम न हो। भले ही भारी व्यस्तता हो, समय कम हो, रात ज्यादा हो जाए, वे किसी की परवाह न करते हुए हर दूसरे, तीसरे दिन अपने आरंग विधानसभा के किसी न किसी गांव में किसी न किसी के घर और कार्यक्रम में पहुंच ही जाते हैं। आरंग के कार्यालय में जनदर्शन कार्यक्रम करते हैं। अपने क्षेत्र के लोगों से मिल रहे प्यार और स्नेह का नतीजा है कि वे लोगों को सौगात देना भी नहीं भूलते। मंत्री डॉ. डहरिया इस क्षेत्र में अक्सर कार में आते-जाते दिखते हैं, लेकिन आज जब क्षेत्र के लोगों ने मंत्री डॉ. डहरिया को कार की जगह स्कूटी चलाते हुए सादगी के साथ अपने घरों के सामने चलते हुए देखा तो सभी आश्चर्य चकित थे। अचानक से स्कूटी में चलते हुए अपने क्षेत्र के विधायक को पाकर लोगों ने उनकी खूब प्रशंसा की और कहा कि मंत्री हो तो शिवकुमार डहरिया जैसे। गौरतलब है कि मंत्री की पहल से आरंग विधानसभा क्षेत्र में 300 करोड़ से अधिक के विकास कार्य कराए जा रहे हैं।
रायपुर जिले के आरंग विधानसभा के विधायक और प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने आरंग क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया। गौरव पथ सहित अन्य कई विकास कार्यों का अवलोकन तो उन्होंने कार से ही किया, लेकिन नगर पालिका परिषद के ऐसे कई इलाके हैं, जिसमें कार का जा पाना संभव नहीं है। रामू पान ठेला से अग्रसेन चौक होते हुए उन्हें जब अन्य कुछ गलियों में होकर कांक्रीटीकरण और निर्माण कार्य आदि को पास से निहारना था और एक कार्यक्रम में जाना था तो उसके वाहन चालक ने संकरी गलियों को देखकर अपनी असमर्थता व्यक्त कर दी। इस बीच मंत्री डॉ. डहरिया कार से उतरे और कुछ दूर पैदल ही चलने लगे, वे कुछ कदम पैदल ही चले थे कि क्षेत्र के कुछ लोगों ने कार्यक्रम स्थल तक दूरी होने की जानकारी देते हुए अपने साथ बाइक में चलने का आग्रह किया। मंत्री जी मुस्कुराएं और पास ही एक पुरानी स्कूटी में सवार युवक से उनकी स्कूटी मांगी और अपने साथ नगर पालिका परिषद अध्यक्ष श्री चंद्रशेखर चंद्राकर को पीछे बैठाकर बोले। आज आप मेरे साथ बैठिए, आपका काम देखते हुए चलते हैं। वे संकरी गलियों में स्कूटी चलाने लगे। शाम ढ़लने का वक्त था, ऐसे में मुहल्ले की गलियों में बाहर बैठे अनेक लोगों ने मंत्री को स्कूटी में देखकर अभिवादन किया। मंत्री डॉ. डहरिया मुस्कुराते हुए चलते रहे और आरंग क्षेत्र की बस्तियों में घरों के आसपास की समस्याओं से स्कूटी में चलते हुए रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने वार्ड 12 रामू पान ठेला से वार्ड 13 होते हुए वार्ड 9 पहुँचे। उन्होंने स्वच्छता, कांक्रीटीकरण, सामुदायिक भवन, लाइट, जिम सहित अन्य कार्यों का भी आंकलन किया और इसके बाद वे एक कार्यक्रम में पहुंचे। उन्होंने पार्षद, एल्डरमैन और जनप्रतिनिधियों के साथ नगर के विकास को लेकर चर्चा की और देर रात्रि तक आमनागरिकों से मिलते रहें।

 

Next Post

मोनिका शर्मा को पीएचडी की उपाधि

रायपुर मैट्स विश्वविद्यालय ने हिन्दी विभाग की शोधार्थी मोनिका शर्मा को पीे.एचडी. की उपाधी प्रदान की है। मोनिका शर्मा ने हिन्दी विभाग की प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष डॉ. रेशमा अंसारी के निर्देशन में छत्तीसगढ़ की प्रमुख महिला साहित्यकार एवं उनका जीवन संघर्ष (चयनित सात साहित्यकारों के विशेष संदर्भ में) विषय पर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।