सड़क दुर्घटना पर कलेक्टर व एसपी ने व्यक्त की संवेदना, परिजनों को दी जाएगी मुआवजा राशि

News Desk

जशपुरनगर

पत्थलगांव विकास के बस स्टैंड के पास वाहन से दुर्घटना होने के कारण एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई और 16 लोग घायल हो गए हैं। सूचना मिलते ही कलेक्टर श्री रितेश कुमार अग्रवाल और पुलिस अधीक्षक श्री विजय अग्रवाल मौके पर उपस्थित होकर घायलों की सहायता की और घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पत्थलगांव में भर्ती कराया गया है। कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि जिला प्रशासन द्वारा हर संभव सहायता की जाएगी। घायलों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आएगी। डॉक्टरों की निगरानी में घायलों का ईलाज कराया जा रहा है। जिन मरीजों को ईलाज के लिए बाहर भेजने की आवश्यकता पड़ेगी उनको एम्बुलेंस के माध्यम से भेजने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की रहेगी।

पुलिस विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार दुर्घटना में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई है। और 16 लोग घायल बताया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि मृत्य हुए व्यक्ति के परिजन को जिला प्रशासन के द्वारा मुआवजा भी दिया जाएगा। पुलिस अधीक्षक जशपुर कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार सड़क दुर्घटना घटना के दोनों आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है। आरोपी बबलू विश्वकर्मा पिता राधेश्याम विश्वकर्मा उम्र 21 वर्ष निवासी सिंगरौली , बैढ़न तथा शिशुपाल साहू पिता रामजन्म साहू उम्र 26 वर्ष निवासी बरगवान थाना बरगवां जिला सिंगरौली दोनों आरोपी मध्य प्रदेश के निवासी हैं एवं छत्तीसगढ़ से पास हो रहे थे। दोनों आरोपियों के विरुद्ध विधि अनुसार कार्यवाही पुलिस द्वारा की जा रही है।

Next Post

सिंघु बॉर्डर पर हत्या: संयुक्त किसान मोर्चा ने झाड़ा पल्ला, कहा- मरने और मारने वालों से हमारा कोई नाता नहीं

नई दिल्ली।   सिंघु बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन स्थल के पास एक युवक लखबीर सिंह की निर्मम हत्या कर शव बैरिकेड्स से लटकाने की घटना की संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने निंदा करते हुए इसे एक बड़ी साजिश बताया है।किसान मोर्चा के नेता जगजीत सिंह दल्लेवाल ने शुक्रवार को […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।