सीएम बघेल ने दोस्त को कराई हेलीकॉप्टर की यात्रा

News Desk

दुर्ग
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने अलग अंदाज के लिए जाने जाते हैं. विजयदशमी के मौके पर सीएम बघेल आज अपने गृह विधानसभा क्षेत्र पाटन के कुरूदडीह गांव पहुंचे, इस दौरान सीएम बघेल ने अपने बचपन के दोस्त नारायण निषाद से मुलाकात की और उससे किया हुए एक वादा भी पूरा किया.

दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पिछली बार जब कुरूदडीह पहुंचे थे तो नारायण निषाद ने चर्चा के दौरान सीएम बघेल से यूं ही कह दिया था कि कभी जब आप हेलीकॉप्टर से आए तो मुझे भी दिखाना. ऐसे में सीएम बघेल आज जब हेलीकॉप्टर से पहुंचे तो उन्होंने नारायण सिंह कहा कि आज मैं हेलीकॉप्टर से आया हूं मेरे साथ रायपुर चलो. जिसके बाद सीएम बघेल अपने दोस्त को हेलीकॉप्टर में बिठाकर रायपुर ले गए.

वहीं नारायण निषाद भी यूं अचानक हेलीकॉप्टर में बैठने से बहुत खुश हुए. उन्होंने कहा कि वह सीएम बघेल के साथ हेलीकॉप्टर से रायपुर जा रहे हैं एक तरह उनका एक बड़ा सपना आज पूरा होने जा रहा है. जिसके बाद सीएम बघेल अपने दोस्त को लेकर रायपुर के लिए रवाना हो गए.

दरअसल, भूपेश बघेल हर दशहरे के अवसर पर नया खाई में स्थित अपने पैतृक घर में पूजा करते हैं. हर बार की तरह इस बार भी वह जैसे ही सीएम नया खाई पहुंचे तो उन्होंने सबसे पहले अपने गांव में दशहरे की पूजा में भाग लिया. मुख्यमंत्री ने इस दौरान गांव के वरिष्ठ लोगों और युवाओं से चर्चा भी की. उन्होंने कहा कि हर साल दशहरे में आपके साथ बहुत अच्छा लगता है. ग्रामीणों ने भी कहा कि हम भी उत्सुकता से इस दिन का इंतजार करते हैं.

वहीं इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गांव की बुजुर्ग महिलाओं से भी मुलाकात की. जहां गांव की महिलाओं ने सीएम बघेल से छत्तीसगढ़ियां भाषा में कहा कि ''तय नहीं हरबे हमर दुख ला तो कौन हरहि, आपसे ही उम्मीद है अच्छा करत हव, अच्छा होही.'' दरअसल, सीएम बघेल ने गांव की महिलाओं से बात करते हुए उनसे कहा था कि ''मैं आप सबकी दुख तकलीफ में हमेशा साथ खड़ा हूं.'' जिसके जवाब में महिलाओं ने उन्हें छत्तीसगढ़ियां भाषा में जवाब दिया.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ग्रामीणों से गोधन न्याय योजना की जानकारी भी ली. इस मौके पर सीएम बघेल ने अपने गांव के पुराने दोस्तों से भी बातें की और अपने बचपन के दिनों को साझा किया. उन्होंने बताया कि किस तरह से वह अपने साथियों के साथ गांव की विभिन्न गलियों में घूमा करते थे. सीएम बघेल काफी देर तक गांव में रुके और उसके बाद नारायण निषाद को अपने साथ लेकर रायपुर के लिए रवाना हो गए.

Next Post

शिया मस्जिद पर फिर किया गया हमला, अब तक 32 लोगों की मौत और 53 से अधिक घायल

कंधार  अफगानिस्तान में कंधार के एक शिया मस्जिद में हुए हमले में कम से कम 32 लोगों की मौत हो चुकी है। स्थानीय पुलिस ने जानकारी दी है कि हमले में कम से कम 32 लोगों की मौत हो चुकी है और 53 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।