सामान बुकिंग के लिए रेलवे ने जारी किए ये हेल्पलाइन नंबर

News Desk

रायपुर
लॉकडाउन में आवश्यक वस्तुओं, खाद्य सामग्री, दवाएं, चिकित्सा उपकरण, खाद्य तेल व अन्य आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता के लिए रेलवे पार्सल स्पेशल एवं विशेष पार्सल ट्रेनों का संचालन कर रहा है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के तीनों मंडलों के महत्वपूर्ण स्टेशनों से होकर देश के अलग-अलग हिस्सों के लिए ये ट्रेनें चलाई जा रही हैं। इस विषम परिस्थिति में एक-दूसरे की मदद के लिए आवश्यक सामग्री भेजने वालों को अच्छी सुविधा प्राप्त हो रही है।

रेलवे ने पार्सल सेवा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। इच्छुक व्यक्ति वाणिज्य निरीक्षक मुख्यालय बिलासपुर 9752475973, बिलासपुर डिविजन कामर्शियल कंट्रोल नं 9752876970, वाणिज्य निरीक्षक निशित कुमार पांडेय 7869964376, पार्सल पर्यवेक्षक राघवेन्द्र पांडेय 9630015485 से संपर्क कर सकते हैं। रायपुर डिविजन में कामर्शियल कंट्रोल नं 9752877998, वाणिज्य निरीक्षक मनोज हाटी 9752877995, पार्सल पर्यवेक्षक रायपुर वाई.जोसेफ 9752877967 से संपर्क कर सकते हैं।

पार्सल पर्यवेक्षक दुर्ग अमर फुटाने 9109112682, नागपुर डिविजन में कामर्शियल कंट्रोल नं 8600109149, वाणिज्य निरीक्षक, गोंदिया 9730078970, पार्सल पर्यवेक्षक गोंदिया -7038009819, वाणिज्य निरीक्षक प्रवेश यादव 9561012768, पार्सल पर्यवेक्षक, इतवारी स्टेशन रमेश सदावर्ते 9822734651 से संपर्क कर सकते हैं।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के महत्वपूर्ण स्टेशनों से 01 अप्रैल से 20 जुलाई तक 7226.01 टन पार्सल की लोडिंग की गई, जो एक रिकार्ड है। इससे रेलवे को 01 करोड़ 63 लाख 58 हजार 849 रुपये की आय हुई। जो पार्सल लोड हुए उनमें 1819.15 टन फल एवं डेयरी उत्पाद, 125.2 टन मेडिसिन, 114.2 टन मेडिकल इक्विपमेंट, 1233.5 टन सब्जियां, 737.35 टन किराना सामान तथा 3196.67 टन दैनिक उपयोग की अन्य वस्तुएं शामिल हैं।

मुख्य रूप से पपीता, अमरूद, चिरौंजी के बीज, ताजी सब्जियां, मोटर साइकिल, साइकिल, कपड़ा, प्लास्टिक बैग, कपडे, अगरबत्तियां, चॉकलेट, मिष्ठान्ना, सुपारी, मशरूम, पापड़, मसाले एवं अन्य किराना सामान एक स्थान से दूसरे स्थान भेजा गया।

Next Post

रेलवे के कोविड देखभाल कोच का कम इस्तेमाल अच्छी निशानी: अधिकारी

नई दिल्ली रेलवे के कोविड देखभाल कोच का कम इस्तेमाल होना एक अच्छा संकेत है। यह बात बृहस्पतिवार को एक वरिष्ठ अधिकारी ने कही और कहा कि इसका मतलब है कि राज्य सरकारों के पास महामारी से निपटने के लिए पर्याप्त सुविधाएं हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक एक दिन […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।