मोनिका शर्मा को पीएचडी की उपाधि

News Desk

रायपुर
मैट्स विश्वविद्यालय ने हिन्दी विभाग की शोधार्थी मोनिका शर्मा को पीे.एचडी. की उपाधी प्रदान की है। मोनिका शर्मा ने हिन्दी विभाग की प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष डॉ. रेशमा अंसारी के निर्देशन में छत्तीसगढ़ की प्रमुख महिला साहित्यकार एवं उनका जीवन संघर्ष (चयनित सात साहित्यकारों के विशेष संदर्भ में) विषय पर अपना शोध कार्य सफलतापूर्वक सम्पन्न किया। इस शोध कार्य में छत्तीसगढ़ राज्य की प्रसिद्ध महिला साहित्यकारों डॉ. सत्यभामा आड़िल, डॉ. उर्मिला शुक्ला, सरला शर्मा, सुधा वर्मा, डॉ. निरुपमा शर्मा, डॉ. स्नेहलता पाठक और डॉ. वंदना किंगरानी के जीवन संघर्ष एवं उनके साहित्य की सारगर्भित विवेचना की गई  है। राज्य की महिला साहित्यकारों के जीवन संघर्ष पर यह पहला शोध कार्य है। मोनिका शर्मा की इस उपलब्धि पर विश्वविद्यालय परिवार ने हर्ष व्यक्त किया है।

Next Post

पिनराई विजयन केरल के सबसे ज्यादा फासीवादी और अलोकतांत्रिक मुख्यमंत्री हैं! : कांग्रेस विधायक

कोच्चि केरल के कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधायक पीटी थॉमस ने राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को लेकर विवादित बयान दिया है। सरकारी नौकरियों में कथित तौर पर हो रही धांधली पर वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) की सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस विधायक पीटी थॉमस ने कहा, शायद […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।