बड़े भाई की हत्याकर पहुंच गया थाने

News Desk

रायपुर। अभनपुर क्षेत्र के गोबरा-नवापारा में बड़े भाई की धारदार हथियार से हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। हत्या करने के बाद छोटा भाई  थाना पहुंचकर सरेंडर कर दिया।   आरोपी भाई का कहना है कि बड़ा भाई आए दिन परिजनों के साथ मारपीट और विवाद करता था। शराब के नशे में धुत होकर आता और बदसलूकी करने के साथ ही मारपीट करता था। इससे दुखी होकर उसके बीवी-बच्चे भी घर छोड़कर चले गए हैं। बीती रात विवाद ज्यादा बढ?े पर आवेश में आकर छोटे भाई ने बड़े भाई को चाकू से गोदकर मार डाला।
पुलिस के अनुसार गोबरा नवापारा के वार्ड क्रमांक 21 में रहने वाले सलीम रिजवी ने गुरूवार रात करीब एक बजे अपने बड़े भाई शमीम की हत्या कर दी। पहले उसे सीढि?ों से धक्का दिया और जब वह लडखड़ाकर गिर गया तब चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। आरोपी सलीम के अनुसार बड़ा भाई शमीम शराब के नशे में गाली-गलौज और मारपीट करता था। कुछ दिन पहले ही उसने अपने बीवी-बच्चों के साथ मारपीट कर घर से भगा दिया था।
पुलिस का कहना है कि गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात सलीम और शमीम के बीच किसी बात को लेकर जमकर विवाद हुआ। नशे की हालत में शमीम उग्र हो गया था। विवाद बढ?े पर सलीम ने उसे सीढि?ो से धक्का दे दिया। इसके बाद वह चाकू से हमला कर दिया। रात में वह खुद थाना पहुंचा और अपने भाई की हत्या करने की बात स्वीकारते हुए सरेंडर कर दिया। सलीम रिजवी के खिलाफ भादवि की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

Next Post

टिकटॉक वीडियो बनाते पांच किशोरों की गंगा में डूबने से मौत, वाराणसी में बड़ा हादसा

 रामनगर (वाराणसी)   वाराणसी में शुक्रवार की सुबह बड़ा हादसा हो गया। गंगा उस पार रेती पर टिकटॉक वीडियो बनाते समय एक एक कर पांच किशोर गंगा में डूब गए। आसपास के लोग उन्हें बचाने दौड़े लेकिन सफल नहीं हो सके। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद पांचों का […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।