फर्जी बिल पर बांठिया, गलत जानकारी पर बालाजी व हेरीटेज अस्पताल को नोटिस

News Desk

रायपुर
निजी अस्पताल संचालक कोरोना के नाम पर आम लोगों से मन-माने पैसे वसूल कर रहा हैं वहीं आॅनलाइन पोर्टल पर भी जानकारी नहीं दे रहे हैं। इसी के कारण स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इन अस्पतालों को नोटिस जारी किया हैं। शव देने के नाम पर बांठिया अस्पताल ने जहां फर्जी बिल प्रस्तुत किया वहीं मोवा के बालाजी अस्पताल व हेरीटेज अस्पताल ने पोर्टल में सही नहीं जानकारी दिया। इसको संज्ञान में लेते हुए स्वास्थ्य विभाग ने इन तीनों अस्पतालों को नोटिस जारी किया है।

विभाग के मुताबिक मोवा स्थिति बालाजी अस्पताल ने आनलाइन पोर्टल पर कोरोना मरीजों के लिए 23 आॅक्सीजन बिस्तर खाली होने की बात कही थी। जबकि पीड़ितों द्वारा फोन करने पर बिस्तर खाली नहीं होने बताया गया। वहीं हेरीटेज अस्पताल द्वारा आॅनलाइन पोर्टल में 25 आॅक्सीजन बिस्तर खाली होने की जानकारी दी थी। जबकि कॉल करने पर अस्पताल प्रबंधन इससे मुकर गया। मामले की शिकायत जिला स्वास्थ्य विभाग को की गई। जहां विभाग ने दोनों अस्पतालों को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। साथ ही कार्रवाई की बात की गई है।

वहीं दूसरी ओर पैसे के लिए कोरोना से मृत व्यक्ति के शव रोकने और गलत बिलिंग कर राशि वसूलने की शिकायत पर स्वास्थ्य विभाग ने बांठिया अस्पताल को नोटिस थमाया है। विभाग ने बताया कि इलाज के दौरान भर्ती मरीज के स्वजनों से अस्पताल 6.50 लाख रुपये ले चुका था। उसकी मृत्य के बाद 70 हजार बकाया होने की बात करते हुए शव को अस्पताल द्वारा रोका गया था। इधर 28 अप्रैल को अस्पताल द्वारा कोविड मरीज को 5.10 लाख का बिल थमाया गया, लेकिन उसमें अस्पताल का सील नहीं था। बिल सामान्य पेपर में दे रहे थे। इसकी शिकायत जिला स्वास्थ्य विभाग से की गई। जिसमें अस्पताल को नोटिस देते हुए कार्रवाई की बात की गई है।

इस संबंध में सीएमएचओ डाक्टर मीरा बघेल ने कहा कि इन अस्पतालों के खिलाफ शिकायत मिली थी। जिसमें बिस्तरों की गलत जानकारी, पैसे के लिए शव रोकने और फर्जी तरीके से बिल देने की बात सामने आई है। अस्पतालों को नोटिस दिया गया है। सही तथ्यों के साथ जवाब नहीं आया तो इन पर कार्रवाई होगी।

Next Post

‘आप’ के 200 ग्राम प्रधान व 70 जिला पंचायत सदस्य जीते: आम आदमी पार्टी

 लखनऊ  आम आदमी पार्टी ने दावा किया है कि उसके 200 से ज्यादा ग्राम प्रधान प्रत्याशी और 70 से अधिक जिला पंचायत सदस्यों जीत चुके हैं। यूपी प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि पहली बार पंचायत चुनाव में उतरी आम आदमी पार्टी को जनता ने भरपूर प्यार […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।