जेम्स एंड ज्वेलरी पार्क प्रोजेक्ट की पी.पी.पी. मूल्यांकन समिति ने की समीक्षा

News Desk

रायपुर
मुख्य सचिव आर.पी.मण्डल की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय महानदी भवन में राज्य स्तरीय पी.पी.पी. मूल्यांकन समिति (पब्लिक प्राईवेट पार्टनरशिप एप्राइजल कमेटी) की बैठक में रायपुर में सर्वसुविधा युक्त जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क की स्थापना के प्रोजेक्ट की विस्तार से समीक्षा की गई। यह पार्क रायपुर में कृषि उपज मंडी परिसर पंडरी देवेन्द्र नगर में बनाया जाना प्रस्तावित है। मुख्य सचिव ने उद्योग विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जेम्स ज्वेलरी पार्क स्थल का उच्चाधिकारियों की टीम बनाकर निरीक्षण कराएं और वहां पर विभिन्न अधोसंरचनाओं के लिए नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करें तथा परियोजना सलाहकार की नियुक्ति हेतु भी आवश्यक कार्यवाही की जाए। बैठक में वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन भी शामिल हुए।

बैठक में छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम लिमिटेड के अधिकारियों ने जानकारी दी कि जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क की परियोजना के लिए करीब दस एकड़ भूमि चिन्हांकित की गई है। अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य सार्वजनिक निजी भागीदारी के मार्गदर्शी सिद्धांतों के तहत परियोजना का कार्य किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि इस परियोजना के क्रियान्वयन  हेतु राज्य शासन द्वारा नवीन बजट मद निर्मित कर वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए एक करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क की सुरक्षा एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं के लिए करीब 350 करोड़ रूपए की परियोजना लागत संभावित है। बैठक में उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ, ग्रामीण विकास एवं वाणिज्यिक कर विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के विशेष सचिव व्ही.के. छबलानी, सी.एस.आई.डी.सी. के प्रबंध संचालक अरूण प्रसाद सहित उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित हुए।

Next Post

काली गर्दन को साफ करने के कुछ प्रभावी घरेलू उपचार

हम अपने चेहरे को खूबसूरत बनाने के लिए तरह-तरह की क्रीम और घरेलू उपचारों का उपयोग करते हैं। लेकिन अपनी गर्दन और कोहनियों की सफाई करना भूल जाते हैं। सिर्फ चेहरा गोरा दिखे और बाकी के हिस्‍से पर कालापन नजर आए, तो आपकी खूबसूरती पर दाग लग सकता है। इसलिए […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।