खुदरा महंगाई दर दिसंबर में घटकर 4.59 फीसदी पर

News Desk

   नई दिल्ली

नए साल में महंगाई के मोर्चे पर केंद्र सरकार को बड़ी राहत मिली है. दिसंबर महीने में खुदरा महंगाई दर में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है. खुदरा महंगाई दर दिसंबर में घटकर 4.59 फीसदी पर आ गई है. इससे पहले नवंबर में खुदरा महंगाई दर 6.93 फीसदी थी.

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों में कहा गया है कि दिसंबर में महंगाई दर घटकर 4.59 फीसदी पर आ गई है, जबकि पिछले साल अक्टूबर में खुदरा महंगाई दर 7.35 फीसदी थी. गौतरलब है कि मई 2014 के बाद अक्टूबर 2020 में महंगाई दर सबसे ज्यादा थी.

खाने-पीने की चीजों के दाम घटने की वजह से दिसंबर में खुदरा महंगाई दर में नरमी आई है. दिसंबर 2020 में खाने-पीने की चीजों की महंगाई घटकर 3.41 फीसदी दर्ज की गई है, इससे पहले नवंबर में यह 9.5 फीसदी थी.

साल दर साल आधार पर दिसंबर में सब्जियों की कीमतों की ग्रोथ -10.41 फीसदी रही. इस दौरान ऑयल की कीमतों की ग्रोथ 20.05 फीसदी रही. अंडों की कीमतों की ग्रोथ 16.08 फीसदी और दालों की कीमतों में 15.98 फीसदी रही.

महंगाई दर में गिरावट के बाद अब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा ब्याज दरों में कटौती की संभावना बढ़ गई है. क्योंकि आरबीआई अपनी मौद्रिक नीति तय करने में खुदरा मुद्रास्फीति को ध्यान में रखता है.

 

Next Post

24 घंटे में सामने आए कोरोना के 15,968 नए मामले 

 नई दिल्ली।  भारत में कोरोना वायरस के रोजोना मामलों में काफी गिरावट देखने को मिली है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 15,968 नए मामले सामने आए हैं। अब देश में कुल मामलों की संख्या 1,04,95,147 हो गई है। […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।