आज 369 रुपये सस्ता हुआ सोना, चांदी 64500 रुपये प्रति किलो के ऊपर

News Desk

नई दिल्ली
आज वैश्विक बाजारों के अनुरूप राष्ट्रीय राजधानी में सोने और चांदी की कीमत में गिरावट दर्ज की गई। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार, घरेलू बाजार में सोने की कीमत में 369 रुपये की गिरावट आई और यह 48,388 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। पीली धातु पिछले कारोबारी दिन 48,757 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुई थी।

चांदी की बात करें, तो पिछले कारोबारी सत्र के 64,924 रुपये प्रति किलोग्राम के मुकाबले आज चांदी का भाव 390 रुपये गिरकर 64,534 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना और चांदी क्रमश: 1,842 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस और 25.21 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस के स्तर पर था।  

निवेशक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना के तहत बाजार मूल्य से काफी कम दाम में सोना खरीद सकते हैं। यह योजना सिर्फ पांच दिन के लिए खुली है और 11 जनवरी 2021 को इसका पहला दिन था। 15 जनवरी 2021 तक यह योजना खुली रहेगी। योजना के तहत आप 5,104 रुपये प्रति ग्राम पर सोना खरीद सकते हैं। यानी अगर आप 10 ग्राम सोने खरीदते है तो उसकी कीमत 51,040 रुपये बैठती है और गोल्ड बॉन्ड की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जाती है तो सरकार ऐसे निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट देती है। इसमें आवेदनों के लिए भुगतान 'डिजिटल मोड' के माध्यम से किया जाना है।

गोल्ड बॉन्ड की परिपक्वता अवधि आठ साल की होती है और इस पर सालाना 2.5 फीसदी का ब्याज मिलता है। बॉन्ड पर मिलने वाला ब्याज निवेशक के टैक्स स्लैब के अनुरूप कर योग्य होता है, लेकिन इस पर स्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) नहीं होती है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना नवंबर 2015 में शुरू की गई थी, जिसका उद्देश्य सोने की हाजिर मांग को कम करना था और सोने की खरीद के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले घरेलू बचत के एक हिस्से को वित्तीय बचत में तब्दील करने के लिए किया गया था।

Next Post

किसी भी महिला जन प्रतिनिधि के साथ दुर्व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा - डॉ. नायक

महासमुन्द छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग में महासमुंद में जन सुनवाई के दौरान रखे गये 16 प्रकरणों में से 13 प्रकरण में आपसी समझौता कराते हुए मामलों का पटाक्षेप किया वहीं 7 प्रकरणों में आपसी सहमति न बन पाने के कारण इन मामलों को नस्तीबद्ध किया गया। तीन साल पुराने किशनपुर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।