सिंधिया इंदौर और उज्जैन के दौरे पर, मालवा के वरिष्ठ नेताओं से करेंगे मुलाकात

News Desk

भोपाल
भाजपा से राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया आज इंदौर और उज्जैन प्रवास के दौरान मालवा के वरिष्ठ नेताओं के घर पहुंचने वाले हैं। इंदौर में सिंधिया की मुलाकात पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन (ताई) के साथ भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से उनके घर पर होना है। हालांकि विजयवर्गीय अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक कल पश्चिम बंगाल चले गए हैं और आज उन्होंने वहां राज्यपाल से मुलाकात की है। माना जा रहा है कि विजयवर्गीय सिंधिया के घर पहुंचने से पहले इंदौर आ जाएंगे। दूसरी ओर यह भी तय बताया जा रहा है कि अगर विजयवर्गीय नहीं आ सके तो भी सिंधिया उनके घर उनके परिजनों से मिलने पहुंचेंगे। इन नेताओं की मुलाकात से मालवा की राजनीति में नए समीकरण बनना तय हो गया है। मालवा-निमाड़ की सात सीटों पर होने वाले चुनाव को लेकर सिंधिया -विजयवर्गीय की यह मुलाकात इसलिए भी महत्वपूर्ण मानी जा रही है क्योंकि पांच सीटों आगर-मालवा, सांवेर, हाट पिपल्या, बदनावर, सुवासरा का प्रभार प्रदेश संगठन ने विजयवर्गीय को सौंप रखा है। सांवेर से मंत्री तुलसी सिलावट चुनाव लड़ेंगे जो सिंधिया के करीबी नेताओं में शामिल हैं और यहां का विधानसभा प्रभारी विजयवर्गीय के करीबी विधायक रमेश मेंदोला को बनाया गया है। मालवा में चुनावी बिसात के मद्देनजर इंदौर पहुंचे सिंधिया एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं से मिले और मीडिया से बात की। इसके बाद वे उज्जैन रवाना हुए और वहां बाबा महाकाल के दर्शन कर शाही सवारी में शामिल हुए। इसके पहले उन्होंने उज्जैन में सांसद अनिल फिरोजिया, उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव और पूर्व मंत्री पारस जैन के निवास पर जाकर सौजन्य मुलाकात की।

Next Post

गलवान घाटी झड़प में घायल जवान 60 दिनों बाद शहीद

देहरादून 15 जून को गलवान घाटी में चीन के सैनिकों के साथ हुई झड़प के बाद घायल हुए हवलदार बिशन सिंह महरा 60 दिनों तक जिंदगी और मौत से जूझते रहे। गत शुक्रवार को इलाज के दौरान चंडीगढ़ के एक अस्‍पताल में उनकी मौत हो गई।15 अगस्त की रात उनका […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।