सांस लेने में थी तकलीफ, कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं, फिर भी कोरोना से हुई मौत

News Desk

इंदौर
मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां कोरोना पीड़ित (Corona Sufferer) 65 वर्षीय एक महिला की मौत (Death) हो गई है. कहा जा रहा है कि महिला ने एमवाय अस्पताल में दम तोड़ा है. वह तीन दिन से एसवाय हॉस्पिटल में भर्ती थी. उसे सांस लेने में तकलीफ होने के चलते उज्जैन से एमवाय अस्पताल में रेफर किया गया था. उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इंदौर में अभी 4 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है.

बता दें कि इंदौर में बुधवार को एक साथ 5 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे. इन सभी मरीजों की उम्र 49 से 68 वर्ष के बीच है. इंदौर के 13 सैंपल और आसपास के जिलों के 8 सैंपल जांच के लिए एमजीएम मेडीकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब भेजे गए थे, जिसमें से 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इनमें से दो मरीजों की हालात ज्यादा गंभीर बताई जा रही थी, जिनमें से एक की अब मौत हो चुकी है.

इंदौर में मिले 4 दूसरे कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से तीन मरीज बॉम्बे अस्पताल और एक अरिहंत अस्पताल में भर्ती हैं.  दो मरीज एक ही परिवार के हैं, जबकि एक इंदौर के रानीपुरा और एक चंदन नगर क्षेत्र का निवासी है. जबकि एमवाय अस्पताल में भर्ती पांचवी महिला मरीज की मौत हो गई है. उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसकी रिपोर्ट एमजीएम मेडीकल कॉलेज भेजी गई थी. रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई थी. इस महिला की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है न इसने पिछले दिनों कोई विदेश यात्रा की थी.

इंदौर में चार कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है. साथ ही नगर निगम ने इन मरीजों के घरों को सेनीटाइड करने के लिए दवा का छिड़काव किया है. टेंकरों के माध्यम से इनके घरों पर दवा का छिड़काव कर सेनीटाइजेशन का काम किया गया है. सीएमएचओ प्रवीण जड़िया का कहना है कि अस्पताल में इलाजरत सभी मरीजों की हालत स्थिर है. साथ ही वो पता करवा रहे हैं कि इनके संपर्क में कौन-कौन रहा है. हालांकि, इन चारों मरीजों में से भी किसी ने पिछले दिनों विदेश यात्रा नहीं की है. इनमें शामिल दो पुरुष मरीज आपस में मित्र हैं जो इसी महीने साथ में वैष्णोदेवी की तीर्थ यात्रा पर गए थे और हाल ही में लौटे हैं.

Next Post

इंदौर नगर निगम हर वार्ड में 5 जगह खुली जरूरी सामान की दुकान

इंदौर नगर निगम हर वार्ड में पांच ऐसी जगह चिन्हांकित कर रहे है जो खाली मैदान या खुली जगह है वहां ठेलों के माध्यम से या फिर अस्थायी दुकानों के माध्यम से लोगों को दूध, सब्जियां जैसी आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे ताकि लोगों में पैनिक ना हो। जो […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।