राजकीय सम्मान से हुआ शहीद दीपक का हुआ अंतिम संस्कार,हजारों नम आंखों ने दी अंतिम विदाई

News Desk

रीवा

लद्दाख में 15-16 जून की रात गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हुए हिंसक संघर्ष में शहीद हुए दीपक सिंह का अंतिम संस्कार शुक्रवार को पूरे राजकीय और सैनिक सम्मान के साथ रीवा जिले के फरेदा गांव में हुआ। हजारों लोगों ने नम आंखों से देश के वीर सपूत दीपक को अंतिम विदाई दी। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा भी शहीद दीपक को उसके आखिरी सफर में कांधा देने पहुंचे। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि ‘दुश्मनों को मारकर वीर दीपक सिंह जी बलिदान हुए, ऐसे सपूतों के रहते हुए भारत माता की ओर कोई आंख उठाकर नहीं देख सकता है। हमें ऐसे अमर शहीद पर गर्व है। मैं उस मां और पिता को प्रणाम करता हूं, जिन्होंने उन्हें जन्म दिया।’

मुख्यमंत्री ने की चीनी सामान के बहिष्कार की अपील
मुख्यमंत्री शिवराज ने शहीद दीपक सिंह के परिवार को भरोसा दिलाया, कि वो अकेले नहीं हैं, बल्कि पूरा देश और प्रदेश उनके साथ खड़ा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार की ओर से हमने फैसला किया है कि शहीद दीपक सिंह जी के परिजनों को एक करोड़ रुपये सम्मान निधि दी जायेगी। उनकी धर्मपत्नी को शासकीय सेवा में लिया जायेगा। एक मार्ग का नामकरण उनके नाम पर होगा और गांव में उनकी प्रतिमा भी स्थापित की जायेगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपील करते हुए कहा कि हमारी सेना चीन को उसकी भाषा में जवाब देगी, लेकिन हमें चीन को आर्थिक रूप से तोड़ना है। इसके लिए उन्होंने प्रदेशवासियों से स्वदेशी अपनाकर चीनी सामान के बहिष्कार की अपील की।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि अमर शहीद दीपक ने देश के लिए हंसते-हंसते अपने प्राण न्योछावर कर दिए। हम उनके इस बलिदान को सलाम करते हैं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति तथा उनके परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति प्रदान करें।

Next Post

मवेशी से भरी ट्रक पलटी 14 मवेशी मारे गए

बालोद। मवेशियों को लेकर जा रही ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गई जिससे 14 मवेशियों की मौत हो गई दुर्घटना के बाद ट्रक चालक ट्रक को छोड़कर फरार हो गया। घटना गुंडरदेही थाना छेत्र के अजुर्नी गांव की है, जहां मवेशियों लेकर जा रही ट्रक सड़क पर बैठे मवेशियों को बचाने […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।