बैरसिया को आद्योगिक क्षेत्र बनाने पर विचार – मंत्री सखलेचा

News Desk

भोपाल

भोपाल जिले की बैरसिया तहसील मुख्यालय और आसपास के क्षेत्रों में उपलब्ध संसाधनों के दृष्टिगत बैरसिया को औद्योगिक क्षेत्र बनाने पर विचार किया जाएगा। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने गुरूवार को ईटखेड़ी में गरीब कल्याण सप्ताह के तहत स्ट्रीट वेंडर्स को वित्तीय सहायता कार्यक्रम के दौरान यह घोषणा की। स्थानीय विधायक विष्णु खत्री भी इस अवसर पर मौजूद थे।

मंत्री सखलेचा ने इस अवसर पर 60 स्ट्रीट वेंडर को ऋण राशि के चेक वितरित किए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार हमेशा गरीब मजदूर, किसानों को आगे ले जाने के लिए और उनके विकास के लिए योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य शासन कोविड काल में गरीबों, रेहड़ी-पटरी लगाने वालों की परिशानियों से वाकिफ है और प्रधानमंत्री ने अपने इन छोटे दुकानदारों की चिंता कर 10-10 हजार की ऋण राशि देकर उनके काम धंधे को फिर पटरी पर लाने का प्रयास किया है।

लघु उद्यम मंत्री ने कहा कि आप सरकार के पास मदद लेने आते उससे पहले ही हमने आपकी परिशानियों को अपनी परेशानी समझकर यह योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि यह योजना लगातार चलती रहेगी और आपके ऋण चुकाने के आधार पर आप अगले वर्षों में और भी अधिक राशि का ऋण पाने का हकदार हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोई भी क्षेत्र पिछड़ा नहीं रहेगा और विधायक खत्री के बैरसिया को औद्योगिक क्षेत्र बनाने के प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार किया जाएगा।

विधायक विष्णु खत्री ने संबोधित करते हुए गरीब कल्याण सप्ताह के दौरान किए गए प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भोपाल जिले में 1289 स्ट्रीट वेंडर के लिए राशि स्वीकृत की गई। म.प्र. राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत स्ट्रीट वेण्डर ऋण वितरण कार्यक्रम आजीविका सुदृढ़ीकरण हेतु मुख्य कार्यक्रम मिन्टो हाल में सम्पन्न हुआ। इसके अलावा भोपाल में विभिन्न 5 स्थानों में जनप्रतिनिधियों के द्वारा 426 हितग्राहियों को चेक वितरण किये गये। यहाँ लगाई गई स्क्रीन पर मंत्री सखलेचा सहित स्ट्रीट वेंडर और उनके परिवार ने मुख्य कार्यक्रम में सम्मिलित होकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का स्ट्रीट वेंडर से संवाद कार्यक्रम भी देखा।

Next Post

पोस्टल बैलेट वाले मतदाता घर से ही दे सकेंगे वोट

 भोपाल भारत निर्वाचन आयोग ने पोस्टल बैलेट की प्रक्रिया को और अधिक प्रभावी बनाया है। आयोग द्वारा 3 तरह के वोटर्स को यह सुविधा प्रदान की गई है, जिसमें 80 वर्ष से अधिक के वोटर्स, पीडब्ल्यूडी वोटर्स (पर्सन्स विथ डिसएबिलिटीज) एवं कोविड-19 से प्रभावित व्यक्ति तथा कोविड-19 के संदिग्ध व्यक्ति […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।