जबलपुर पुलिस ने 5 शातिर गाड़ी चोरो को किया गिरफ्तार

News Desk

जबलपुर
 जबलपुर पुलिस को आज चोरों को पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल हुई है। जबलपुर पुलिस ने कई चोरियों का खुलासा करते हुए 3 चोर और 2 चोरी का माल खरीदने वालों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने चोरों के पास से लाखों रुपयों का माल भी बरामद किया है। खास बात यह है कि चोरों ने पुलिस पर निगरानी रखने के लिए ड्रोन कैमरा भी चुराया था लेकिन उसका उपयोग कर पाते इससे ही पुलिस ने उन्हें धर दबोचा।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक चोर गिरोह का सरगना विक्की इससे पहले भी कई बार चोरी के मामले में जेल जा चुका है। हाल ही में जेल से छूटने के बाद विक्की ने अपने साथ कन्हैया और दीपू को भी साथ कर लिया था। तीनो चोरों ने मिलकर अब तक विजय नगर-संजीवनी नगर और गोहलपुर में कई चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुके थे। पुलिस ने चोरों के पास सोन- चांदी के जेवर जप्त किये हैं जिनकी कीमत करीब 15 लाख बताई जा रही है। इसके अलावा एक मोटरसाइकिल और ड्रोन कैमरा भी बरामद किया है।

खबर के मुताबिक विक्की-कन्हैया की गैंग बहुत शातिर थी, चोरी के लिए उनका दिमाग बहुत ही तेज चलता था। पुलिस पर निगरानी रखने के लिए ड्रोन कैमरे भी चुराया था जिससे जब भी यह लोग चोरी करने जाए तो आसपास ड्रोन कैमरे से पुलिस की हलचल पता रख सकें। चोर ड्रोन कैमरे को सीखने की तैयारी कर रहे थे कि उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

मामले में जबलपुर पुलिस ने तीन चोर- विक्की उर्फ विकास रजक (27), कन्हैया सोनी उर्फ सचिन (28), दीपू उर्फ प्रदीप विश्वकर्मा (28), और चोरी का सामान खरीदने वाले- अन्नू उर्फ अनीष (37), विनोद (30) को गिरफ्तार किया है।

 

Next Post

Vicky kaushal के बाइसेप्स देख कर फैन्स हुए फ़िदा।

विकी कौशल (Vicky Kaushal) इन दिनों अपनी आने वाली फिल्‍म की तैयारियों में बिजी हैं। वह जिम में घंटों पसीना बहा रहे हैं क्‍योंकि वह शूटिंग के लिए रेडी हो रहे हैं। हाल ही में उन्‍होंने इंस्‍टाग्राम पर एक तस्‍वीर शेयर की और वर्कआउट सेशन की झलक फैंस को दिखाई। […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।