जनपद पंचायत अम्बाह के सभागार में स्व-सहायता समूहों की दीदियों को दिया गया प्रशिक्षण

News Desk

मुरैना
मप्र डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूह की सीआरपी दीदियों को विकासखण्ड अम्बाह के जनपद सभागार में शुक्रवार को वित्तीय साक्षरता प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण में क्रिसिल संस्था भोपाल के विनय कुमार, विकासखण्ड प्रबन्धक अम्बाह दिवाकर शर्मा, विकासखण्ड पोरसा के प्रबन्धक तपन मिश्रा उपस्थित थे। इस दो दिवसीय प्रशिक्षण में 7 विन्दुओ के अंतर्गत प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें आय व्यय, बचत, बीमा, नगद रहित व्यवहार, कर्ज, स्वयं सहायता समूह, अन्य वित्तीय योजनाएं पर प्रशिक्षणय दिया गया। इन सातों बिन्दुओ सहित ग्राम में स्व-सहायता समूहों के सामुदायिक अभिप्रेरणा से सामाजिक व वित्तीय समावेशन के लक्ष्य की प्राप्ति सहित निर्माण, व्ययपार, सेवा क्षेत्रांे से ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण में प्रमुख भूमिका पर विस्तार से चर्चा की गई।

जिसमें सत्र की शुरुआत प्रथम दिवस में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत अंबाह ललित चैधरी के द्वारा की गई। वित्तीय साक्षरता प्रशिक्षण में बचत लाभ, हानि, आय-व्यय बीमा, पेंशन, पीपीएफ खाता आदि विषयों पर 7 मॉडल के आधार पर प्रशिक्षण अंबाह एवं पोरसा की कुल 24 दीदियों को दिया गया, जो दीदीयां ग्रामों में जाकर गठित स्व-सहायता समूह के सदस्यों को प्रशिक्षण प्रदान करेंगी। यह प्रशिक्षण मास्टर ट्रेनर विनय कुमार ने दिया।   

द्वितीय दिवस में कार्यक्रम समापन सत्र में डीपीएम दिनेश तोमर मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जिला मुरैना ने समस्त दीदियों से फीडबैक लेकर ग्रामवार कार्ययोजना पर विस्तृत चर्चा की तथा उन्हें टास्क अनुसार मानदेय भी मिल सकेगा। कार्यक्रम में मुख्यतः प्रेरणा संकुल स्तरीय संगठन अम्बाह की उर्मिला तोमर, मनीषा राठौर, सीमा सहित पोरसा विकासखण्ड की मिथलेश तोमर, मधु, तपन मिश्रा, मुकेश बुनकर, दुष्यंत शाक्य उपस्थित थे।

Next Post

सांसद पवन बंसल कांग्रेस के अंतरिम कोषाध्यक्ष

    नई दिल्ली      पांच बार के सांसद और वरिष्ठ नेता पवन कुमार बंसल कांग्रेस के अंतरिम कोषाध्यक्ष बनाए गए हैं. सोनिया गांधी के सलाहकार और पार्टी के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल के आकस्मिक निधन के कारण पद खाली हो गया था. कांग्रेस अध्यक्ष पद की तरह अभी कोषाध्यक्ष के […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।