किसान व मजदूर आत्मनिर्भर होंगे तभी प्रदेश व देश आत्मनिर्भर बनेगा-मंत्री डॉ. भदौरिया

News Desk

भोपाल

सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ.अरविन्द सिंह भदौरिया ने कहा कि मध्यप्रदेश पहला ऐसा प्रदेश है, जिसमें प्रधानमंत्री के जन्म दिन को सप्ताह भर आयोजन कर गरीब कल्याण सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है। मंत्री डॉ. भदौरिया शनिवार को शिवपुरी जिले के ग्राम टोड़ा में'आत्मनिर्भर भारत' अन्तर्गत आयोजित कृषक सहकारी सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे।

सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी व मुख्यमंत्री चौहान के प्रयासों से किसान, मजदूर सहित युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने का कार्य किया जा रहा है। सरकार द्वारा गांव, गरीब, बेरोजगारों के लिये अनेक योजनाएं लागू की गई हैं। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण सहित अन्य सुविधाएं देकर उन्हें मजबूत बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि समर्थन मूल्य पर सर्वाधिक गेहूँ खरीदकर मध्यप्रेदश ने देश मे पहला स्थान प्राप्त किया है, यह किसानों की कड़ी मेहनत से ही सम्भव हो सका है। मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि जब ब्यक्ति, समाज व प्रदेश आत्मनिर्भर बनेगा तभी राष्ट्र आत्मनिर्भर होगा।

कार्यक्रम में मंत्री डॉ. भदौरिया ने लगभग दो दर्जन किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरित किये। कार्यक्रम में कोलारस के विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने भी अपने विचार रखें तथा शासन की योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया।

Next Post

4071 नए मामलों के साथ दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2.43 लाख हुई, अब तक 4945 की मौत

दिल्ली  दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 4071 नए मामले सामने आए हैं। वहीं कोरोना के कारण जान गंवाने वालों की संख्या आज बढ़कर 38 तक पहुंच गई है । स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, आज राजधानी में करीब 62 हजार सैंपल्स के टेस्ट किए गए हैं। लगातार बढ़ रहे मामलों […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।