कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से की शिवराज सरकार द्वारा किए गए स्थानांतरणों को निरस्त करने की मांग

News Desk

 भोपाल
मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रदेश की भाजपा की शिवराज सरकार द्वारा किए जा रहे अधिकारियों  और कर्मचारियों के स्थान्तरण को लेकर निर्वाचन आयोग में शिकायत की है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता और प्रभारी चुनाव आयोग कार्य जे.पी.धनोपिया ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को लिखित शिकायत करते हुए आचार संहिता लगने के बाद भी भाजपा सरकार द्वारा किए जा रहे स्थान्तरण पर रोक लगाए जाने की मांग करते हुए जिन विधानसभा क्षेत्रों में उप चुनाव हो रहे है वहाँ शासकीय अधिकारियों और कर्मचारियों के स्थान्तरण को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लगाई गई आचार संहिता का उलंघन बताया है। कांग्रेस द्वारा मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को सौंपे गए शिकायती पत्र में आईपीएस सचिन अतुलकर को सहायक पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर, आर.के.द्विवेदी उप नियंत्रक नापतौल ग्वालियर, डी. के.श्रीवास्तव सहायक नियंत्रक मुरैना, नगर पालिका, नगर निगम, राजस्व निरीक्षक आदि पदों पर पदस्थ 31 अधिकारियों को स्थानांतरित कर आचार संहिता का उलंघन किया गया है।

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भाजपा चिन्हित कर अपने चहेते अधिकारियों तथा कर्मचारियों की पद स्थापना कर राजनैतिक लाभ लेने के उद्देश्य से योजनाबद्ध तरीके से उप चुनाव वाले विधानसभा क्षेत्रों में आचार सांहित लगने के बाद स्थानांतरणों करना सरासर गलत और अनुचित है। जिस पर निर्वाचन आयोग को रोक लगानी चाहिए। कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से मांग की है कि उप चुनाव वाली विधानसभाओं में किए गए अधिकारियों और कर्मचारियों के स्थानांतरणों को निरस्त किया जाए।

Next Post

ICICI bank slash MCLR rate ने घटाई ब्याज दरें

मुंबई आज से नया महीना शुरू हो चुका है और तमाम नियम-कानून भी बदल गए हैं। इसी बीच दो बैंकों से मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स -आधारित लेडिंग रेट यानी एमसीएलआर की दरों में कटौती की खबर आ रही है। ये बैंक हैं आईसीआईसीआई बैंक (ICICI bank slash MCLR rate) और […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।