इमरती देवी के पैर धोएं या राजनीति से संन्यास लें कमलनाथ: पाठक

News Desk

ग्वालियर
अपनी अअशोभनीय टिप्पणी के लिए कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ इमरती देवी को बहन मानकर उनके पैर धोएं या राजनीति से सन्यास लें, वरना जनता उन्हें स्थायी सन्यास दिला देगी। यह कहना है सीधी की सांसद श्रीमती रीति पाठक का।
पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि एक ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कन्यापूजन करते हैं, उनके पैर पूजते हैं और उनके लिए योजना बनाकर उनका भविष्य संवारते हैं, वहीं दूसरी ओर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ महिलाओं के लिए अशोभनीय टिप्पणी करते हैं। उन्होंने डबरा की सभा में हमारी प्रत्याशी श्रीमती इमरती देवी के लिए जिन शब्दों का इस्तेमाल किया उसकी हम कड़ी निंदा करते हैं। उनका यह बयान उनके मानसिक दिवालिएपन का सबूत है।  

उन्होंने कहा कि कमलनाथ के शब्द बेहद अशोभनीय  हैं। उन्होंने कई घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि राहुल गांधी ने 10 अक्टूबर 2017 को बड़ोदरा में लोगों से यह पूछा था कि क्या संघ की शाखाओं में महिलाएं स्कर्ट पहने दिखती हैं? इससे पहले भी  वो महिलाओं के प्रति अपनी नफरत को दर्शा चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक कार्यक्रम में कांग्रेस सांसद मीनाक्षी नटराजन को टंच माल कहा। यही कांग्रेस और उसके नेताओं की संस्कृति है। उन्होंने मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर पर कांग्रेस नता शशि थरूर की टिप्पणी सहित ऐसी कई घटनाओं का जिक्र किया।

भाजपा के एक-एक कार्यकर्ता और प्रदेश की महिलाओं ने आज पूरे प्रदेश में इसका विरोध किया। आने वाले उपचुनावों में कमलनाथ की इस टिप्पणी पर जनता अपने मत के द्वारा अंतिम फैसला सुना देगी। चर्चा के दौरान BJP जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी, प्रदेश सहमीडिया प्रभारी उदय अग्रवाल, महिला मोर्चा की प्रदेश मंत्री श्रीमती सुमन शर्मा, श्रीमती नीरू ज्ञानी, संभागीय मीडिया प्रभारी पवनकुमार सेन उपस्थित थे।

Next Post

रची अब टावर वाली साजिश पाकिस्तान ने , जम्मू-कश्मीर भेजना चाहता है सिग्नल

 नई दिल्ली                                                जैश-ए-मोहम्मद समेत तमाम आतंकवादी संगठनों को देश में पनाह देने के लिए कुख्यात पाकिस्तान नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। इमरान खान की […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।