1 जुलाई को दे दस्तक सकता है OnePlus Nord 2T 5G

News Desk

OnePlus Nord 2T 5G को भारतीय मार्केट में लॉन्च किया जाएगा। खबरों के अनुसार, फोन को 1 जुलाई को लॉन्च किया जा सकता है। हालांकि, इस बात की जानकारी कंपनी ने नहीं दी है। अगर संभावित कीमत की बात की जाए तो इस फोन को 30,000 रुपये के तहत पेश किया जा सकता है। लीक्स के मुताबिक, फोन में मीडियाटेक डायमेंसिटी 1300 प्रोसेसर दिया जा सकता है। वहीं, इसमें 90Hz रिफ्रेश रेट दिया जा सकता है।

फोन को दो वेरिएंट में पेश किया जा सकता है। इसका पहला वेरिएंट 8 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज के साथ दिया जा सकता है। इसकी कीमत 28,999 रुपये हो सकती है। वहीं, दूसरा वेरिएंट 12 जीबी रैम और 256 जीबी स्टोरेज के साथ लॉन्च किया जा सकता है जिसकी कीमत 33,999 रुपये के आस-पास हो सकती है। कहा जा रहा है कि फोन को 1 जुलाई को लॉन्च किया जा सकता है और 5 जुलाई को इसकी सेल आयोजित की जाएगी।

फोन में OxygenOS 12.1 पर आधारित एंड्रॉिड 12 दिया जा सकता है। फोन में 6.43 इंच का फुल एचडी प्लस एमोलेड डिस्प्ले दिया जा सकता है। साथ ही रिफ्रेश रेट 90Hz का होगा। यह फोन HDR10+ को सपोर्ट करेगा। फोन की स्क्रीन पर कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 की प्रोटेक्शन दी गई है। यह फोन मीडियाटेक डायमेंसिटी 1300 प्रोसेसर से लैस हो सकता है। इसमें 12 जीबी तक की रैम दी जा सकती है। इसके अलावा ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिए जाने की उम्मीद है। फोन का पहला सेंसर 50 मेगापिक्सल का Sony IMX766 लेंस है। दूसरा 8 मेगापिक्सल का Sony IMX355 लेंस होगा और तीसरा 2 मेगापिक्सल का मोनोक्रोम सेंसर होगा। फोन में 32 मेागपिक्सल का सेल्फी सेंसर दिया जा सकता है। यह फोन 256GB तक की स्टोरेज के साथ आ सकता है। फोन में 4500mAh की बैटरी दी जा सकती है जो 80W SuperVOOC वायर्ड चार्जिंग से लैस होगा।

Next Post

निजी स्कूलों में 26 जून तक छुट्टियां घोषित

भोपाल मध्यप्रदेश में नगर निकाय-पंचायत चुनाव (MP Panchayat Election)को देखते हुए स्कूलों (MP School) में छुट्टियां घोषित कर दी गई है। दरअसल स्कूल संचालकों (Private School) की तरफ से आई जानकारी के मुताबिक 26 तारीख को चुनाव (panchayat chunav) के प्रथम चरण की वोटिंग (first phase voting) संपन्न होने के […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।