पूर्व क्रिकेटर जहीर अब्बास की की हालत नाजुक

News Desk

लंदन

पाकिस्तान के अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज जहीर अब्बास को लंदन के एक निजी अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (ICU) में भर्ती कराया गया है. जहीर अब्बास कोरोना से पीड़ित थे, जिसके बाद उनकी तबीयत खराब हो गई थी.

जियो न्यूज के अनुसार 74 वर्षीय अब्बास को पैडिंगटन के सेंट मैरी अस्पताल में भर्ती कराए जाने के तीन दिन बाद आईसीयू में भेज दिया गया.

अपने जमाने के कलात्मक बल्लेबाजों में से एक अब्बास दुबई से लंदन की यात्रा के दौरान कोविड-19 की चपेट में आ गए थे. उन्होंने दर्द की शिकायत की थी और लंदन पहुंचने के बाद उन्हें निमोनिया हो गया था.

जियो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से कहा, ‘अभी वह डायलिसिस पर हैं और चिकित्सकों ने उन्हें लोगों से नहीं मिलने की सलाह दी है.’

अब्बास ने 1969 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था. अपनी पीढ़ी के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक अब्बास ने 72 टेस्ट मैचों में 5062 रन और 62 वनडे में 2572 रन बनाए.

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उन्होंने 459 मैचों में 34843 रन बनाए, जिसमें 108 शतक और 158 अर्धशतक शामिल हैं. संन्यास लेने के बाद उन्होंने एक टेस्ट और तीन एकदिवसीय मैचों में आईसीसी मैच रेफरी की भूमिका भी निभाई.

अब्बास को जैक कैलिस और लिसा स्टालेकर के साथ 2020 में आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया था. जहीर अब्बास को एशिया का डॉन ब्रैडमैन भी कहा जाता था, क्योंकि तकनीक के मामले में उनका कोई सानी नहीं था.

Next Post

सही तरीके से पकाये चावल नहीं होगी डायबिटीज

चावल खाना अधिकतर लोगों को पसंद होता है। बहुत से भारतीय घरों में चावल के बिना खाने की थाली पूरी ही नहीं होती। लेकिन चावल खाने से व्यक्ति को कई तरह के नुकसान हो सकते हैं। यह आपके शरीर का वजन बढ़ा सकते हैं या फिर डायबिटीज पीड़ित व्यक्ति को […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।