हरियाणा निकाय चुनाव में भाजपा ने 22 पर जीत हासिल की

News Desk

चंडीगढ़

हरियाणा निकाय चुनाव में भाजपा ने बड़ी जीत दर्ज की है। रविवार को यहां 18 निकाय परिषदों और 48 निगमों के मतदान हुए थे। भाजपा ने इनमें से 22 सीटों पर जीत हासिल कर ली है, वहीं सहयोगी जननायक जनता पार्टी ने तीन सीटें जीती हैं। इसके अलावा 19 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते हैं। एक-एक सीट पर आम आदमी पार्टी और इंडियन नेशनल लोकदल को सफलता हासिल हुई है। बता दें कि कुल 46 सीटों पर चुनाव हुए थे।

खट्टर बोले- अग्निपथ के विरोध का असर नहीं
भाजपा और जेजेपी गठबंधन ने 46 में से 41 सीटों पर चुनाव लड़ा था। दोनों पार्टियों ने संयुक्त रूप से कुल 25 सीटों पर जीत हासिल की जो कि कुल सीटों का 61 फीसदी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस जीत पर कहा है कि अग्निपथ योजना को लेकर विरोध प्रदर्शन का चुनाव परिणाम पर कोई असर नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि यह जीत पार्टी के मेहनती कार्यकर्ताओं के समर्पित है।

भिवानी से निर्दलीय भवानी प्रताप, चरखी दादरी से भाजपा के बख्शी राम सैनी, फतेहाबाद से भाजपा के राजेंद्र सिंह, टोहाना से निर्दलीय रनरेश कुमार, सोहना से भाजपा की अंजू, हांसी से निर्दलीय प्रवीण अहलावादी, नरवाना से निर्दलीय मुकेश रानी, जींद से भाजपा की अनुराधा सैनी, झज्जर से भाजपा के जिले सिंह, बहादुरगढ़ से भाजपा के सरोज राठी, कैथल से भाजपा की सुरभि गर्ग, नारनौल से निर्दलीय कमलेश, नूंह से जजपा के संजय कुमार, कालका से भाजपा के कृष्ण लाल लांबा, पलवल से भाजपा के यशपाल, ने जीत दर्ज की है।

केन्या की मूल निवासी महिला ने भी जीता चुनाव
आम आदमी पार्टी ने एक सीट पर जीत हासिल की है। कुरुक्षेत्र के इस्माइलाबाद नगर पालिका से निशा कानो वांघा को जीत मिली है। वह मूलरूप से केन्या की रहने वाली हैं। वह जब इंग्लैंड में पढ़ाई कर  रही थीं तभी उनकी मुलाकात इस्माईलाबाद के पुनीत गर्ग से हुई थी। इसके बाद दोनों ने शादी कर ली। शादी के बाद वह इस्माइलाबाद में ही रहती हैं।

 

Next Post

नदी नालों से रेत उत्खनन पर प्रतिबंध

सूरजपुर नदी, नालों से रेत उत्खनन पर अब पूर्णत: प्रतिबंध लग गया है और इस आशय का खनिज विभाग ने सभी रेत ठेकेदारों को लिखित में सूचना दे दिया है। रेत की आपूर्ति स्वीकृत भंडारण केंद्र से की जा सकती है। जिले में खनिज विभाग से अनुबंध 34 रेत खदाने […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।