शिंदे की बढ़ती ताकत, सात और MLA पहुंचे गुवाहाटी

News Desk

 मुंबई
      
महाराष्ट्र में उद्धव सरकार की मुश्किलें और बढ़ती दिख रही हैं. सीएम ठाकरे की अपील के बावजूद शिवसेना विधायकों के पाला बदलने का सिलसिला अब भी जारी ही है. आज सुबह तीन और विधायक गुवाहाटी पहुंच गए हैं. इससे पहले बुधवार को चार और विधायक गुवाहाटी में शिंदे गुट से जा मिले थे.

बुधवार रात को करीब 8 बजे चार विधायक गुवाहाटी में मौजूद Radisson Blu होटल पहुंचे. इसी होटल में एकनाथ शिंदे बाकी बागी विधायकों के साथ रुके हुए हैं. जानकारी के मुताबिक, शाम को पहुंचे चार विधायक महाराष्ट्र BJP अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील के साथ सूरत से गुवाहाटी के लिए रवाना हुए थे.

गुवाहाटी पहुंचे शिवसेना के विधायकों में गुलाबराव पाटील और योगेश कदम भी शामिल हैं. बाकी दो विधायक (मंजुला गावित और चंद्रकांत पाटिल) निर्दलीय हैं.

दो और विधायक जा सकते हैं गुवाहाटी

आज कुर्ला के विधायक मंगेश कुदालकर और दादर के विधायक सदा सरवानकर के गुवाहाटी जाने की खबरे हैं. आज जो विधायक सुबह गुवाहाटी पहुंचे हैं उसमें ये दोनों भी शामिल हैं या नहीं यह अभी साफ नहीं है. अगर दावे के मुताबिक ये विधायक शिंदे खेमे को ज्वाइन कर लेते हैं तो शिंदे के साथ शिवसेना के विधायकों की संख्या 36 तक पहुंच जाएगी जबकि अन्य 12 विधायक भी शिंदे के साथ बताए जाते हैं.

यह भी पढ़ें – शिवसेना से बागी हुए एकनाथ शिंदे का हो सकता है पार्टी पर कब्जा? जानें क्या हैं नियम

इस बीच, कल शिंदे गुट ने 34 विधायकों के हस्ताक्षर वाली चिट्ठी गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी को भेजा है. चिट्ठी में कहा गया है कि एकनाथ शिंदे ही शिवसेना विधायक दल के नेता हैं. भरत गोगावले को नया चीफ व्हिप चुन लिया गया है. शिव सेना ने मंगलवार को शिंदे को विधायक दल के नेता पद से हटा दिया था.

उद्धव ने छोड़ा सीएम आवास

बुधवार को दिनभर चली मीटिंग्स के बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने देर शाम चौंकाने वाला फैसला लिया था. वह मुख्यमंत्री आवास छोड़कर मातोश्री (अपने घर) पहुंच गए. इतना ही नहीं उन्होंने फेसबुक पर लाइव आकर कहा कि बागी सामने आकर उनसे बात करें.

महाराष्ट्र की जनता से फेसबुक संवाद में कल उद्धव ठाकरे ने कहा कि इस्तीफा तैयार है. चाहे सीएम पद से से लो, चाहे पार्टी प्रमुख पद से. लेकिन उद्धव ठाकरे कहते हैं कि जो कुछ कहना है, सामने आकर कहो. ऐसा करके ठाकरे ने गेंद शिंदे गुट के पाले में डाल दी है.

 

Next Post

कोविड टीकाकरण करवाने में स्व-सहायता समूह की महिलाएँ बनेंगी भागीदार

भोपाल ग्रामीण क्षेत्रों में सम्पूर्ण कोविड-19 टीकाकरण करवाने में राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूह की महिलाएँ भागीदार बनेंगी। राज्य परियोजना प्रबंधक, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन ने सभी जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को इस आशय के निर्देश जारी किये हैं। राज्य परियोजना प्रबंधक द्वारा जारी निर्देश में […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।