हाईकोर्ट :संसदीय सचिवों के खिलाफ दायर याचिका निराकृत, सचिवों के पॉवर सीज

News Desk

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने संसदीय सचिवों की नियुक्ति मामले फैसले को सही ठहराया है। हाईकोर्ट के फैसले के बाद संसदीय संचिवों को हटाने का खतरा टल गया है। लेकिन उनको पावरलेस कर दिया गया है उनको अब मंत्री जैसा सुखसुविधा नहीं मिलेगा ।

बिलासपुर हाईकोर्ट में याचिकाकर्ताओं ने दिल्ली में संसदीय सचिवों की नियुक्ति को अवैध ठहराए जाने के बाद राज्य में इसके खिलाफ आपत्ति लगाई थी। छत्तीसगढ़ में 11 संसदीय सचिवों की नियुक्ति की गई है। लेकिन कोर्ट ने राज्य सरकार के पक्ष में फैसला सुनाया है।  कांग्रेस नेता मोहम्मद अकबर और सामाजिक कार्यकर्ता राकेश चौबे ने याचिका लगाई थी।इसकी अंतिम सुनवाई 16 मार्च को हुई थी और 2 फरवरी को कोर्ट ने संबंधित पक्षों की बहस पूरी की थी। इस मामले में हुई सुनवाई में कोर्ट ने अपने अंतरिम आदेश में संसदीय सचिवों के काम करने पर रोक लगा दी थी।

Next Post

बिलासपुर महापौर को कांग्रेसी महिलाओ ने भेंट की चूड़ियां, राजनीतिक विवाद गरमाया

बिलासपुर। नगर निगम सफाईकर्मचारियों की नियमतिकरण मामले में क्रमिक भूख हड़ताल के समर्थन में बैठी कांग्रेस नेत्रियों ने महापौर किशोर रॉय को चूड़ियाँ भेंट की । बिलासपुर नगर निगम में कार्यरत्त सफाई कर्मचारियों द्वारा नियमतिकरण की मांगों को लेकर विगत 17 दिनों से क्रमिक भूख हड़ताल की जा रही है […]