श्वेता तिवारी ने घटाया 10 किलो से ज्यादा वजन

News Desk

श्वेता तिवारी के मुताबिक, दूसरी प्रेग्नेंसी के बाद उनका वजन बहुत बढ़ गया था. उन्होंने अपने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, मैं 73 किलोग्राम की हो गई थी. हम तुम और उन्हें शुरू करने से पहले मुझे अपने किरदार में फिट होने के लिए वजन कम करने की सख्त जरूरत थी. श्वेता ने अपने दूसरे बच्चे के जन्म के बाद इंस्टाग्राम पर अपनी वेट लॉस जर्नी को शेयर करते हुए बताया था कि उन्होंने डिलीवरी के बाद अपना 10 किलो वजन केवल डाइट पर कंट्रोल करके घटाया था. हालांकि उस डाइट में श्वेता ने चीट-डे को भी शामिल किया था. बाद में उन्होंने वर्कआउट करना भी शुरू किया. श्वेता तिवारी की एक इंस्टाग्राम पोस्ट के मुताबिक, वह अपनी फिटनेस का क्रेडिट अपनी डायटीशियन सेलेब्रिटी नूट्रिशनिस्ट किनिता कडाकिया पटेल को देती हैं. एक्ट्रेस ने सही वजन पाने के लिए अपनी डाइट पर पूरा ध्यान रखा.  श्वेता ने कहा कि वजन कम करना आसान नहीं है. इसके लिए इच्छाशक्ति, लगन और खुद पर कंट्रोल की काफी जरूरत होती है, यह नामुमकिन भी नहीं है. खासकर तब, जब आपके पास किनिता कडाकिया जैसे लोग हों, जो इस कठिन यात्रा को आसान और मजेदार बनाते हैं. श्वेता के मुताबिक, व्यस्तता के कारण पहले उनके पास एक्सरसाइज करने के लिए पर्याप्त समय नहीं था, इसलिए वह अपनी नूट्रिशनिस्ट किनीता कडाकिया पटेल की तरफ से बताए गए डाइट पर चलती थीं. इससे उनका शुरूआती 10 किलो वजन कम हो गया. फिर धीरे-धीरे उन्होंने अपनी ट्रेनिंग को अपनी डेली रूटीन का हिस्सा बना लिया. एक्ट्रेस की नूट्रिशनिस्ट के अनुसार, श्वेता के खाने में कार्ब्स, प्रोटीन और वसा का बहुत अच्छा संयोजन रहता है. साथ ही श्वेता खुद को पूरा दिन हाइड्रेट रखने के लिए खूब पानी पीती हैं. इसी के साथ, उन्हें ताजे फलों का जूस और नारियल पानी पीना भी बहुत पसंद है. इसके अलावा श्वेता योग भी करती हैं और वीकेंड पर अपनी बेटी के साथ स्विमिंग भी करती हैं. श्वेता ने अपने स्लिमर सेल्फ का ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाने का मौका नहीं जाने दिया. फोटोशूट के लिए उन्होंने सबसे ज्यादा फ्लर्टिंग और ग्लैमरस कपड़े पहने. प्लंबिंग नेकलाइन्स से लेकर हाई स्लिट्स तक, उन्होंने हिम्मत के साथ अपनी मेहनत का जलवा बिखेरा. सिर्फ श्वेता के फैंस ही नहीं, बल्कि इंडस्ट्री के दोस्त भी उन्हें 'ग्लैम डॉल' में बदलते देख हैरान रह गए. सब लोग कमेंट सेक्शन में उनकी करना बंद नहीं कर सके. उनकी पूर्व सह-कलाकार फहमान खान ने लिखा, "बस करो सखी, ऐसे आग नहीं लगाते लोगों के दिल में.

Next Post

छत्तीसगढ़ राज्य का भुइयां कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर मिला पुरस्कार...

  रायपुर छत्तीसगढ़ में संचालित भुइयां कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार मिला है। छत्तीसगढ़ में कार्यालय आयुक्त भू-अभिलेख द्वारा संचालित लैंड रिकॉर्ड्स प्रोजेक्ट, भुइयां सॉफ्टवेयर को मुंबई में आयोजित एक भव्य समारोह में प्रतिष्ठित आईएमसी डिजिटल अवार्ड्स 2021 से सम्मानित किया गया है। सरकारी क्षेत्र में उत्कृष्टता के लिए […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।