बिग ब्रेकिंग: एक्सप्रेस वे में घोर लापरवाही कंसलटेंट का कांट्रेक्ट सस्पेंड.. लायन इंजीनियरिंग का 60 लाख सिक्युरिटी डिपॉजिट रोका गया..

Dilshad Ali


रायपुर। राजधानी की लाइफ लाइन मानी जाने वाली एक्सप्रेस वे के निर्माण में घोर लापरवाही बरतने पर बड़ी कार्रवाई करते हुए पीडब्लूडी सिकरेट्री सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने आदेश जारी कर कंसलटेंट का कांट्रेक्ट निलंबित कर दिया है और 60 लाख रुपये भी रोक दिया गया।


राजधानी के रायपुर रेलवे स्टेशन से नया रायपुर तक 350 करोड़ के एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट के कंसलटेंट का काम भोपाल के लायन इंजीनियरिंग को मिला था। अफसरों का कहना है कि कंसलटेंट ने अपना काम ठीक से नहीं किया। इसका नतीजा हुआ कि प्रारंभ होने से पहले ही एक्सप्रेस वे में जगह-जगह दरारें पड़ गईं। ब्रिज के वॉल भी धसकने लगे। लिहाजा, जनजीवन को कोई नुकसान न पहुंचे, सरकार ने एहतियात के तौर पर एक्सप्रेस वे के आवागमन पर रोक लगा दी।
कुछ दिन पहले नए पीडब्लूडी सिकरेट्री सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने एक्सप्रेस वे का जायजा लिया और उसमें गंभीर खामियों के लिए अधिकारियों को फटकार लगाई थी। परदेशी ने अफसरों से पूछा था कि के वे कंसलटेंट और ठेकेदार के वर्क की मानिटरिंग्रग आखिर क्यों नहीं किए। इस पर अधिकारी कोई जवाब नहीं दे पाए। पीडब्लूडी सिकरेट्री ने एक्सप्रेस वे का न केवल नए सिरे से डिजाइन बनाने का निर्दश दिया बल्कि कहा था कि एनआईटी के एक्सपर्ट से उसे एप्रूव्ह कराएं। इसके बाद ही सुधार कार्य प्रारंभ किया जाए।
परदेशी ने आज पहली कार्रवाई करते हुए लायन इंजीनियरिंग कंसलटेंट का न केवल कंट्रेक्ट सस्पेंड कर दिया बल्कि करीब 60 लाख रुपए डिपॉजिट भी रोक लिया।
उधर, पीडब्लूडी के अधिकारियों के तेवर को देखते एक्सप्रेस वे बनाने वाले अहमदाबाद के ठेकेदार ने एक्सप्रेस को दुरुस्त करने के लिए तैयार हो गया है। एनआईटी से डिजाइन एप्रूव्ह हो जाने के बाद एक्सप्रेस वे का सुधार कार्य प्रारंभ हो जाएगा।

Next Post

ब्रेकिंग:सब्जियों में घातक रंगों से रंग लगाते निगम की टीम ने व्यवसायी को पकड़ा.. सब्जी व्यापारी पर 10 हजार जुर्माना लगाया..

भिलाई। छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी मंडी में शुमार भिलाई के आकाशगंगा सब्जी मंडी में सब्जियों को घातक रंग रोगन करने का मामला उजागर हुआ है. नगर निगम की टीम ने सब्जियों को रंगने का भांडाफोड़ करते हुये टीम ने रंग किए हुए गाजर एवं रंग के डिब्बे को जप्त कर […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।