अंतागढ़ टेपकांड के आरोपी मंतूराम पवार ने वॉइस सैंपल देने के बाद बड़े राजनीतिक सेअपनी जान का खतरा बताया.. डीजीपी को पत्र लिख कर अतिरिक्त सुरक्षा, वाहन और वायरलेस सेट मांगा.. ..पत्र देखिये..

Dilshad Ali

रायपुर।अंतागढ़ टेपकांड के आरोपी मंतूराम पवार ने वॉइस सैंपल देने के बाद अपनी जान का खतरा बताते हुये पुलिस अधिकारियों सेअपनी व परिवार की सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है। निज सुरक्षा बढ़ाने के साथ उनको अपने साथ दौरा में ले जाने शासकीय वाहन और दो वायरलेस सेट की भी मांग की है।

इस संबंध में मंतूराम पवार ने डीजीपी को ख़त लिखा है. मंतूराम पवार ने परिवार के लिए भी सुरक्षा की मांग की है. उन्होंने पत्र में कहा है बड़े राजनीतिक दलों से उनको खतरा है 2014 से उनको सुरक्षा मिली है लेकिन अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की गई साथ ही मंतूराम पवार ने शासकीय वाहन और दो वायरलेस सेट भी माँगा है।

Next Post

एक लाख के इनामी डीएकेएमएस अध्यक्ष नक्सली सन्ना हेमला पुलिस लाइन से फरार..नक्सली हेमला को मुखबिरी के शक में हत्या करने के लिए माओवादियों ने बंदी बनाया था..

दंतेवाड़ा। एक लाख के इनामी डीएकेएमएस अध्यक्ष नक्सली सन्ना हेमला पुलिस लाइन से फरार हो गया। तीन दिन पहले ही पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया था। इधर घटना से पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया।डीएकेएमएस अध्यक्ष को पुलिस मुखबिरी के शक में हत्या करने के इरादे से नक्सलियों के कब्जे […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।