घर पर क्रिसमस ट्री लगाने से पहले जान ले, सही नियम और दिशा

News Desk

क्रिसमस का त्योहार ईसा मसीह यानी यीशु परमात्मा के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है. हर साल की तरह इस साल 2022 भी क्रिसमस का त्योहार 25 दिसंबर को मनाया जाएगा. क्रिसमस के दिन लोग अपने घरों को खूब सजाते हैं. लेकिन क्रिसमस पर क्रिसमस ट्री का खास महत्व […]

सपने में इन में से कोई धातु दिखाई दे तो ,आपके जीवन में सुख-समृद्धि की बहार

News Desk

 मनुष्य अपने जीवन में सफलता और तरक्की के लिए हर संभव कोशिश करता है परंतु ज्योतिष में कुछ चीजें ऐसी होती हैं, जिन पर मनुष्य का वश नहीं चल पाता. उन्हीं में से एक है सपना देखना. सपना देखना एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, जो मनुष्य के आने वाले अच्छे और […]

पति की दीर्घ की आयु के लिए वर्ष 2023 में रखे जाने वाले व्रतों सूची

News Desk

कहते हैं कि पति-पत्नी का रिश्ता सात जन्मों का होता है और इनकी जोड़ी स्वर्ग से बनकर आती है. आपसी प्रेम और विश्वास ही इस रिश्ते का अहम आधार है, जिससे यह रिश्ता मजबूत और खूबसूरत बनता है. हिंदू धर्म में ऐसे कई व्रत होते हैं, जिसे महिलाएं पति की […]

जानिए किस व्रत को करने से यमराज भी हो जाते है प्रसन्न,नहीं करना पड़ते नरक के दर्शन

News Desk

हिंदू धर्म में धर्मराज के समाराधन व्रत का बहुत महत्व माना गया है. इसे नरकार्ति- विनाशिनी त्रयोदशी व्रत भी कहा जाता है. स्कंद और भविष्य पुराण के अनुसार जो मनुष्य इस व्रत को विधिपूर्वक करता है, उससे यमराज प्रसन्न होते हैं. यमदूतों व नरक के  दर्शन तक नहीं कर वह […]

विवाह पंचमी के अवसर पर 5 आसान उपायों से विवाह के योग बनते हैं

News Desk

मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि 28 नवंबर को है, इसलिए विवाह पंचमी इस तारीख को मनाई जाएगी. इस तिथि को भगवान श्रीराम और माता सीता का विवाह हुआ था. राजा जन​क ने सीता जी के विवाह के लिए स्वयंवर आयोजित की थी, जिसमें भगवान श्रीराम अपने गुरु […]

जानते है गीता जयंती कब मनाई जाएगी क्या है महत्व

News Desk

धार्मिक ग्रंथों में श्रीमद्भागवत गीता का विशेष स्थान है क्योंकि इसमें मनुष्य के जीवन से जुड़ी हुई सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान निहित है. भगवान श्रीकृष्ण ने संसार को गीता के रूप में अपनी विशेष कृपा प्रदान की है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार, मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष की […]

विनायक चतुर्थी व्रत से दूर होंगे जीवन के सरे कष्ट ,करे ये उपाए

News Desk

विनायक चतुर्थी के दिन प्रात: स्नान के बाद गणेश जी का पूजन विधि विधान से करें. मार्गशीर्ष माह की विनायक चतुर्थी 27 नवंबर दिन रविवार को है. इस दिन भगवान गणेश की पूजा करते हैं और व्रत रखते हैं. विनायक चतुर्थी के दिन आप अपने बिजनेस या करियर में तरक्की […]

तुलसी पूजा के दौरान भूलकर भी ये गलतियां नहीं करनी चाहिए,जाने नियम

News Desk

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को बहुत ही पवित्र पौधा माना जाता है. तुलसी के पौधे को देवी का रूप मानकर प्रतिदिन पूजा-उपासना की जाती है. हिंदू धर्म का अनुसरण करने वाले हर व्यक्ति के घर में तुलसी का पौधा जरूर होता है. तुलसी को सुख-समृद्धि और आस्था का […]

श्रीकृष्ण ने रुक्मणी से क्यों किया था विवाह?

News Desk

हिंदू धर्म ग्रंथों में श्रीकृष्ण और राधा के प्रेम के कई प्रसंग मिलते हैं. श्रीकृष्ण बिन राधा के अधूरे माने जाते हैं, इसलिए जब भी श्रीकृष्ण का नाम आता है तो सबसे पहले राधा नाम पुकारा जाता है. जैसा कि सभी जानते हैं श्रीकृष्ण और राधा एक दूसरे को प्रेम […]

बाल ब्रह्मचारी थे श्री हनुमान जी तो पुत्र मकरध्वज कैसे हुआ उत्पन्न?आइये जानते है

News Desk

 वाल्मीकिरामायण में हनुमान के पुत्र मकरध्वज का वर्णन मिलता है। सवाल उठता है किजब पवनपुत्र हनुमान बाल ब्रह्मचारी हैं तो उनका पुत्र कैसे उत्पन्न हुआ। और वह पुत्र भी न केवल हनुमान की तरह दिखता था बल्कि शक्ति, बल, पराक्रम में हनुमानजी की ही टक्कर का था। आइए जानते हैं […]

समुद्र मंथन से निकले 14 बहुमूल्य रत्नों में से 5 रत्नों को घर में रखने से दूर रहेंगे रोग-कंगाली

News Desk

  विष्णु पुराण के अनुसार, एक बार महर्षि दुर्वासा के श्राप से स्वर्ग में धन, ऐश्वर्य और वैभव खत्म हो गया. इस समस्या के समाधान के लिए सभी देवी-देवता भगवान विष्णु के पास पहुंचे. तब विष्णु जी ने देवों और असुरों के बीच समुद्र मंथन कराने का उपाय बताया. इसके […]

वनवास के दौरान लक्ष्मण एक पल भी नहीं सोए ,क्योंकि14 वर्षों तक ना नहीं सोने का मांगा था वरदान

News Desk

 जब भगवान श्रीराम वनवास के लिए गए, तब उनके साथ माता सीता और उनके भाई लक्ष्मण भी साथ थे. वनवास के दौरान लक्ष्मण ने अपने भाई श्रीराम और माता सीता की 14 वर्षों तक नि:स्वार्थ सेवा की थी. रामायण के अनुसार, जब प्रभु श्रीराम और माता सीता अपनी झोपड़ी में […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।